Connect with us

Chandigarh

कुमारी सैलजा ने की लाठीचार्ज करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग

Published

on

सत्य खबर,  चंडीगढ़ 

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्षा कुमारी सैलजा के निर्देशानुसार रोहतक में किसानों पर बर्बरतापूर्ण तरीके से किये गए लाठीचार्ज के विरोध में बुधवार को प्रदेश के समस्त जिला मुख्यालयों पर कांग्रेसजनों ने प्रदर्शन किया और सम्बंधित जिला उपायुक्त को हरियाणा के महामहिम राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन सोंपा गया।


यह जानकारी देते हुए हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव डॉ. अजय चौधरी ने बताया कि प्रदेश में कांग्रेस पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गाँधी और अपने नेता श्री राहुल गाँधी के दिशा निर्देशन में मोदी सरकार द्वारा थोपे गये कृषि विरोधी तीन काले कानूनों के खिलाफ लगातार संघर्ष कर रही है। उन्होंने बताया की किसान 3 अप्रैल 2021 को रोहतक में मुख्यमंत्री के आने का शांतिपूर्ण तरीके से विरोध कर रहे थे तो सरकार के इशारे पर पुलिस ने निर्दयतापूर्वक तरीके से लाठीचार्ज किया जिसके कारण एक बहुत ही बुजुर्ग किसान सहित दर्जनों लोगों को गंभीर चोटें आई। हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार के इसी तानाशाही रवैया के कारण आज यह ज्ञापन सोंपा गया। उन्होंने बताया कि हरियाणा भाजपा के नेता एवं कार्यकर्ता शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन कर रहे किसानों को भड़काने के उद्देश्य से सोशल मिडिया इत्यादि पर अमर्यादित भाषा का प्रयोग कर आये दिन विवादित भाषण देते रहते हैं, यह मुद्दा भी ज्ञापन में उठाया गया।

यह भी पढें:-   सिरसा में किसानों ने किया GOPAL KANDA का भारी विरोध, पुलिस ने किया वाटर कैनन का इस्तेमाल

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस महासचिव ने बताया कि ज्ञापन में हरियाणा के महामहिम महोदय से अनुरोध किया गया कि 3 अप्रैल को शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे किसानों पर बर्बरतापूर्ण लाठी चार्ज करने के आदेश देने वाले अधिकारियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई के आदेश देने का कष्ट करें, किसानों के विरुद्ध जो कोई भी व्यक्ति या नेता विवादित बयान देता है या अमर्यादित भाषा का प्रयोग करता है उसके खिलाफ तुरंत कार्रवाई के लिए प्रदेश सरकार को आदेश जारी करें और हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार को यह नसीहत देने का भी कष्ट करें कि वह किसानों का अस्तित्व समाप्त करने वाले तीन काले कानूनों को रद्द करवाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार पर दबाव बनाए।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *