Connect with us

Haryana

अमित सिहाग ने बेबुनियाद आरोपों का किया खंडन,खालसा ऐड एवम् विप्र फाउंडेशन का जताया आभार

Published

on

सत्यखबर 

हल्का डबवाली के विधायक अमित सिहाग ने टीम दीपेंद्र द्वारा वितरीत किए गए ऑक्सिजन कॉन्स्ट्रेटर के सन्दर्भ में किए जा रहे भ्रामक प्रचार का आज खंडन करते हुए कहा कि हमें नकारात्मक राजनीति को छोड़ कर इस आपदा के समय में सक्रात्मकता दिखाते हुए आमजन के सहयोग की भावना से काम करना चाहिए।

यह भी पढें:-  बच्चों को कोरोना से बचाव के लिए आयुष मंत्रालय ने जारी की ये नई गाइडलाइनस

टीम दीपेंद्र द्वारा गत दिवस जिला सिरसा में वितरीत किए गए ऑक्सिजन कंस्ट्रेटर पर उठाए गए सवालों को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि टीम दीपेंद्र एक समाजिक संगठन के रुप में काम करता आया है और करोना की दूसरी लहर के दौरान, जब सरकारों ने भी पूरी तरह तैयारी नहीं की थी, उस समय टीम दीपेंद्र ने हेल्पलाइन चला कर अपनी टीम के सदस्यों व सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से तक़रीबन 30 हजार परिवारों को, वेंटीलेटर, ऑक्सिजन बेड, आवाश्यक दवाओं, प्लाज्मा आदि की सहायता पहुंचाने का प्रयास किया था और अब उसी श्रृंखला में टीम दीपेंद्र हरियाणा के हर ज़िले के सरकारी अस्पतालों में जरूरतानुसार ऑक्सिजन कॉन्स्ट्रेटर भिजवाने का काम कर रही है।

यह भी पढें:-  बच्चों को कोरोना से बचाव के लिए आयुष मंत्रालय ने जारी की ये नई गाइडलाइनस

विधायक ने कहा कि जैसे जैसे टीम दीपेंद्र ने अपना काम सुचारू रूप से किया और समाज सेवा का जज्बा दिखाया तो बहुत से व्यक्ति विशेष, डॉक्टर एवम प्रतिष्ठित समाजिक संस्थाएं उनके साथ करोना की इस लडाई में जुड़ती गईं,विधायक ने जानकारी दी कि पहले व्यक्तिगत रूप से दीपेंद्र हुड्डा जी ने 85 ऑक्सिजन कॉन्स्ट्रेटर खरीद कर अपनी टीम के माध्यम से वितरीत किए और बाद में बढ़ती जरूरत को देखते हुए अन्य सामाजिक संगठनों से समन्वय स्थापित किया, जिसमे खालसा ऐड एवम् विप्र फाउंडेशन जैसी सम्मानित संस्थाएं मुख्य रूप से शामिल हैं, जिन्होंने दीपेंद्र हुड्डा एवम् उनकी टीम द्वारा किए काम की विश्वसनीयता को देखते हुए टीम को सूत्रधार बनाकर हरियाणा में आमजन को राहत पहुंचाने के लिए ऑक्सीजन कॉन्स्ट्रेटर आदि का सहयोग देने का काम शुरु किया।
विधायक सिहाग ने कहा कि अगर टीम दीपेंद्र सेवा का काम श्रेय लेने के लिए कर रही होती तो विभिन्न संस्थाओं द्वारा दिए गए इन ऑक्सिजन कॉन्स्ट्रेटर पर वो ख़ुद का स्टीकर भी लगा सकती थी लेकिन बजाय इसके उन्होंने हर उस संगठन का नाम सार्वजनिक करने को पहल दी जिन्होंने सहयोग किया है।
विधायक ने बताया कि विप्र फाउंडेशन जो की पूरे भारत में ब्राह्मणों की अग्रणीय एवम् सम्मानित फाउंडेशन है, और जिन्होंने ऑक्सिजन बैंक को पूरे देश में खास कर ग्रामीण क्षेत्रों में लगाने का अभियान शुरु किया था, उन्होंने हरियाणा में इस अभियान को आगे बढ़ाने के लिए दीपेंद्र हुड्डा जी से सम्पर्क किया जिसके तहत टीम दीपेंद्र हरियाणा के हर ज़िले में ऑक्सिजन कॉन्स्ट्रेटर भिजवाने का काम कर रही है। सिहाग ने बताया कि इस फाउंडेशन ने करीब 250 ऑक्सिजन कंस्ट्रेटर टीम दीपेंद्र को उनके निवास पर दिए जिनमे से 25 ऑक्सिजन कंस्ट्रेटर उन्हें खालसा ऐड ने सहयोग के रुप में दिए थे। सबूत के तौर पर उन्होंने अनुदान से संबंधित पत्र और तस्वीर भी सोशल मीडिया पर जारी की जिसमे विप्र फाऊंडेशन, खालसा ऐड के प्रतिनिधियों से दीपेंद्र हुड्डा के निवास पर ऑक्सिजन कॉन्स्ट्रेट लेकर, टीम दीपेंद्र को रिसीव करवा रहे हैं।
सिहाग ने कहा कि जहां पीएम रिलीफ फंड में अधिकतम जानकारी ही नहीं मिल पाती की आपके अनुदान का कहां प्रयोग किया है वहीं टीम दीपेंद्र एक सूत्रधार के रुप में पूरे पारदर्शी तरीके से सेवा प्रकल्प में लगी हुई है और स्पष्ट पता चलता है कि किसके सहयोग को कहां प्रयोग किया गया है। उन्होंने कहा कि नियत में खोट ढूंढने की जगह हम सबको मिलकर इस आपदा के समय में सेवा की तरफ बढ़ना चाहिए तभी समाज और हमारे क्षेत्र का भला हो सकता है। उन्होंने टीम दीपेंद्र पर उंगली उठाने वालों को कहा कि नकरात्मक बयानबाज़ी की जगह अगर आप सब भी टीम दीपेंद्र की तरह अपनी नैतिक जिम्मेदारी निभाते हुए आपदा के समय आमजन की सहायता करते तो आज हरियाणा को इतनी चुनौतियों का सामना न करना पड़ता। सिहाग ने खालसा ऐड एवम् विप्र फाउंडेशन का टीम दीपेंद्र पर विश्वास दिखाने के लिए आभार व्यक्त किया।
इसके साथ ही विधायक ने आश्चर्य एवम् दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि जहां वे प्रतिदिन इस सोच से अपने दिन की शुरुआत करते हैं कि किस प्रकार से डबवाली को बेहतर सुविधा प्रदान की जाए, वहींं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो केवल अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए जनहित में करवाए जा रहे काम में बाधा डालने या व्यक्तिगत टीका टिप्पणी करने का काम करते हैं। सिहाग ने कहा कि इसी मानसिकता के चलते ही डबवाली का जो विकास पिछले दशकों में होना चाहिए था वो नहीं हो पाया। उन्होंने ऑक्सिजन प्लांट का उदाहरण देते हुए कहा कि जहां सबको गर्व होना चाहिए था कि विधायक प्रयास कर संस्था के सहयोग से ऑक्सिजन प्लांट डबवाली में लेकर आए हैं जो क्षेत्र की स्वास्थ सुविधा को मजबूत करेगा, वहीं इसके विपरीत कुछ लोग केवल टीका टिप्पणी तक ही सीमित है। टिप्पणी करने वाले लोगों को विधायक ने नसीहत देते हुए कहा कि उनकी बात को मानने की बजाय ऐसे लोग मुख्यमंत्री हरियाणा की विधानसभा में कही उस बात को माने जिसमे उन्होंने कहा था कि काम का प्रपोजल तो सभी विधायक भेजते हैं लेकिन काम उसी का होता है जो विधायक वास्तविकता में काम करवाने के लिए भाग दौड़ करता है। सिहाग ने कहा कि डबवाली हल्के के विकास के लिए उन्हें किसी भी दरवाज़े पर जाना पड़े वो पहले भी जाते रहे हैं और आगे भी जाने को तैयार हैं और वो मदद के लिए सरकार एवम् प्रशासन का सदैव आभार भी व्यक्त करते रहें हैं। विधायक ने कहा कि गत दिवस उन्होंने वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉ केवी सिंह जी द्वारा पीने के पानी की बनाई परियोजना को मंजूरी देने पर बकायदा बयान जारी करके सरकार का आभार व्यक्त किया था और जहां सरकार सहयोग करेगी वहां हमेशा आभार जताया जायेगा और जहां सरकार जनविरोधी काम करेगी तो उसका विरोध भी किया जायेगा।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: घटते कोरोना संक्रमित मामलों के बीच,मौतों का आंकड़ा बढ़ा रहा है चिंता..जानिए आज कितने लोगों ने गंव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *