Connect with us

Chandigarh

आत्मनिर्भर भारत अभियान को गति देगी हरियाणा सरकार

Published

on

सत्यखबर, चढ़ीगढ़

हरियाणा सरकार  राज्‍य में ‘आत्‍मनिर्भर भारत’ अभियान को गति देगी। उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य सरकार कृषि आधारित उद्योग स्थापित करने पर जोर देगी, ताकि प्रदेश के किसानों को उनकी उपज के बेहतर दाम मिल सके। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के तहत कृषि आधारित ऐसी परियोजनाएं स्थापित करने की योजना बना रही है। इससे कृषि आधारभूत संरचना का अधिक विकास हो सकेगा।

केंद्र सरकार ने ‘कृषि आधारभूत संरचना कोष के तहत वित्तीय सुविधा योजना तैयार की है। इसके अंतर्गत बैंकों और वित्तीय संस्थानों के माध्यम से आधारभूत संरचना और लॉजिस्टिक सुविधाओं के लिए उद्यमियों, स्टार्ट-अप, एग्रीटेक प्लेयर्स और किसान समूहों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए एक लाख करोड़ रूपये का आर्थिक पैकेज रखा गया है।

दुष्यंत चौटाला के अनुसार हरियाणा सरकार केंद्र के इस एक लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में से 3170 करोड़ रूपये की कृषि आधारभूत संरचना  के विकास और किसानों के कल्याण के लिए परियोजनाएं बनाएगी। इसके तहत परियोजनाओं की जांच एवं सिफारिश करने के लिए सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल के नेतृत्व में एक टास्क फोर्स का गठन किया गया है। अब यह टास्क फोर्स प्रस्ताव आमंत्रित करेगी। प्रस्तावों की व्यवहार्यता की जांच की जाएगी और सरकार के विचारार्थ या अनुमोदन के लिए परियोजनाओं की सिफारिश करेगी।

दुष्यंत चौटाला ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे विशेष ऋण के माध्यम से किसानों को अतिरिक्त कार्यशील पूंजी उपलब्ध करवाने, अल्पावधि अग्रिम और पशु किसान क्रेडिट कार्ड के तहत नामांकन, कृषि आधारभूत संरचना के विकास, दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों के लिए बुनियादी ढ़ांचे तथा दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों, दुग्ध संग्रह केंद्रों और दुग्ध संयंत्रों के डिजिटलीकरण एवं नवीनीकरण आदि से संबंधित परियोजाएं तैयार करें ताकि प्रदेश के किसानों को अधिक से अधिक लाभ हो