Connect with us

Haryana

इनेलो के गढ़ नरवाना में दुष्यंत चौटाला का पलड़ा प्रतीत होता भारी

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) – कई सालों से इनैलो का गढ़ माने जाने वाला नरवाना विधानसभा क्षेत्र में सांसद दुष्यंत चौटाला का पलड़ा भारी प्रतीत होता दिखाई दे रहा है। यूं तो अभी तक इनेलो कार्यकर्ता चाचा-भतीजे के कलह से सकते में है, फिर भी उनकी अंदरुनी भावना से थोड़ा दुख बहुत यह निकलकर सामने […]

Published

on

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) – कई सालों से इनैलो का गढ़ माने जाने वाला नरवाना विधानसभा क्षेत्र में सांसद दुष्यंत चौटाला का पलड़ा भारी प्रतीत होता दिखाई दे रहा है। यूं तो अभी तक इनेलो कार्यकर्ता चाचा-भतीजे के कलह से सकते में है, फिर भी उनकी अंदरुनी भावना से थोड़ा दुख बहुत यह निकलकर सामने आ रहा है कि कार्यकर्ता सम्मान चाहते हैं, जो उन्हें दुष्यंत के साथ मिलना संभव लगता है। इस संबंध में जब इनैलो के वरिष्ठ नेता व बिनैन खाप के प्रेस प्रवक्ता रघवीर नैन से बात की गई, तो उन्होंने बताया, ना तो उन्हें अजय चौटाला से कुछ लेना है और ना ही अभय चौटाला से। बस, वो तो अपना सम्मान चाहते हैं, जो उन्हें युवा संसद दुष्यंत चौटाला से मिलता नजर आता है।

उनके विचार में जिस भी कार्यकर्ता के पास अपना स्वाभिमान है, मैं नहीं मानता कि वह अभय चौटाला के पास टिक पाएगा। जहां तक नरवाना हल्के से विधायक की बात है, उन्होंने भी अपने पक्ष को कार्यकर्ताओं के निर्णय पर छोड़ दिया है। हल्के के कार्यकर्ता जो भी फैसला लेंगे, विधायक उस निर्णय का स्वागत करेंगे। इसकी पुष्टि गुरुवार को विधायक द्वारा सिरसा में अजय सिंह चौटाला से मिलकर होती मालूम पड़ती है। रघबीर नैन ने आगे बताया, इस संबंध में जल्दी ही कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई जाएगी और 17 नंबर से पहले यह बात स्पष्ट हो जाएगी कि नरवाना क्षेत्र में अधिकतर कार्यकर्ता दुष्यंत चौटाला के साथ हैं या अभय चौटाला को ही अपना समर्थन देते रहेंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *