Connect with us

Haryana

इलाज की बजाय डॉक्टर साहब करते हैं मरीजों से लड़ाई

राजौंद के नागरिक अस्पताल में मरीजों से लड़ाई करते हुए डॉक्टर का वीडियो वायरल सत्यखबर कैथल – राजौंद कस्बे के नागरिक अस्पताल में अगर आप इलाज करवाने जा रहे हैं तो जरा सावधान होकर जाइये क्योंकि वहॉं के डॉक्टर लखजीत सिंह का स्वभाव कब उखड़ जाए और वो झगड़ा कर लें ये कुछ पता नहीं। […]

Published

on

राजौंद के नागरिक अस्पताल में मरीजों से लड़ाई करते हुए डॉक्टर का वीडियो वायरल

सत्यखबर कैथल – राजौंद कस्बे के नागरिक अस्पताल में अगर आप इलाज करवाने जा रहे हैं तो जरा सावधान होकर जाइये क्योंकि वहॉं के डॉक्टर लखजीत सिंह का स्वभाव कब उखड़ जाए और वो झगड़ा कर लें ये कुछ पता नहीं। डॉक्टर लखजीत सिंह अस्पताल में मरीजों और स्टाफ से अक्सर लड़ते रहते हैं। हर मरीज का इलाज उनके मूड पर डिपेंड करता है और ना ही उन्हें किसी बात का कोई डर है।

डॉक्टर लखजीत का अभी अभी ताज़ा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमे वो मरीज के साथ हाथापाई कर रहे हैं वो भी मरीज की जायज मांग के बावजूद। बीरबांगड़ा निवासी कर्मबीर के छोटे भाई की पत्नी को राजौंद नागरिक अस्पताल में बच्चा हुआ था जिसको कैथल के नागरिक अस्पताल ले जाना था लेकिन पिछले डॉक्टर के इलाज का पर्चा जरूरी था। जब डॉक्टर लखजीत से पर्चा मांगा गया तो मरीज को मना करने लगा। जब मरीज ने कहा की हमे जरूरत है कैथल में इलाज के लिए तो डॉक्टर ने हाथापाई शुरू क्र दी और लड़ाई करते हुए सड़क तक पहुँच गया जिसका भरे बाज़ार ने तमाशा देखा व वीडियो बनाकर वायरल कर दी।

यह किस्सा कोई नया नहीं है क्योकि इससे पहले भी ऐसा ही चूका है जब डॉक्टर साहब की खुद के क्वाटर में नीम्बू के पेड़ को कटवाना चाहते थर लेकिन जब स्टाफ मेंबर ने इसका विरोध किया तो डॉक्टर साहब गाली गलौच व ईंट तक मारने पर उतारू ही गए थे। उस घटना का भी वीडियो वायरल हुआ था।

जब इस विषय में कस्बे के लोगों से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया की डॉक्टर का स्वाभाव झगड़ालू है वो इलाज करने की बजाय लोगों से लड़ाई करते रहते हैं। नगर पालिका के MC सुशील ने बताया की डॉक्टर साहब तो हर किसी के साथ लड़ते रहते है जिसकी वजह से सभी परेशां हैं और तो और यहां तक की धमकी देते हैं की मेरी ट्रांसफर कोई नहीं कर सकता। व्ही बॉक्सर मनोज के कोच राजेश ने बताया की डॉक्टर की बदली के लिए वो कई बार प्रयास कर चुके हैं लेकिन ये कस्बे का दुर्भाग्य है की पिछले ढाई साल से कोई अच्छा डॉक्टर नहीं आ रहा। इसके लिए वो स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को भी लिखकर दे चुके हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *