Connect with us

Haryana

एसबीआई के दो सहायक प्रबंधकों पर गिरी गाज, जयपुर भेजी पुरानी नगदी में से 3.26 लाख गायब

सत्यखबर, रेवाड़ी( संजय कौशिक   ) रेवाड़ी स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मुख्य शाखा के दो सहायक प्रबंधकों पर ऐसी गाज गिरी कि उन्हें गायब हुए 3.26 लाख रुपये की एवज में इतनी ही राशि के जुर्माने सहित 6.52 लाख चुकाने के बावजूद उनके खिलाफ आरबीआई के निर्देश पर धोखाधड़ी का केस भी दर्ज हो […]

Published

on

सत्यखबर, रेवाड़ी( संजय कौशिक   )

रेवाड़ी स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मुख्य शाखा के दो सहायक प्रबंधकों पर ऐसी गाज गिरी कि उन्हें गायब हुए 3.26 लाख रुपये की एवज में इतनी ही राशि के जुर्माने सहित 6.52 लाख चुकाने के बावजूद उनके खिलाफ आरबीआई के निर्देश पर धोखाधड़ी का केस भी दर्ज हो गया है। हुआ यह कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में जमा होने वाले पुराने व कटे-फटे नोट जयपुर की आरबीआई शाखा को भेजे जाते हैं। लगभग 7 माह पूर्व बैंक में एकत्रित हुई ऐसी लाखों रुपये की करंसी जयपुर भेजी गई थी। करंसी की जब गिनती की गई तो उसमें 3 लाख 26 हजार 200 रुपये कम मिले। आरबीआई ने इसे गंभीर मामला माना और रेवाड़ी बैंक को निर्देश दिए। इसका पता चलते ही बैंक ने पहले तो अपने स्तर पर इसकी जांच की और फिर इसकी शिकायत सिटी थाना के तहत गोकल गेट चौकी को की। जांच में पाया गया कि सहायक प्रबंधक भगवान दास व एसएल मक्कड़ इसके लिए जिम्मेदार हैं, क्योंकि रेवाड़ी चेस्ट पर इनकी ड्यूटी थी। आखिर में दोनों अधिकारियों को दंडित करते हुए गायब राशि की दो गुना राशि बैंक में जमा कराने को कहा गया। दो अधिकारियों ने अपनी नौकरी बचाने के लिए जुर्माने सहित यह राशि जमा भी करा दी, लेकिन आरबीआई से मिले निर्देश में कहा गया कि रुपये जमा कराने के बाद गुनाह समाप्त नहीं हो जाता। इसके बाद बैंक के प्रबंधक आशुतोष कुमार ने आज दोनों प्रबंधकों के खिलाफ धोखाधड़ी व अमानत में खयानत का मामला दर्ज करा दिया।
जांचकर्ता पुलिस अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि मामले की जांच करके अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। दोनों अधिकारियों ने बैंक में दो गुना राशि जमा करा दी है।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *