Connect with us

Bhiwani

एसवाईएल के मामले को इनेलो ने लटकाया, अब कर रही राजनीति

अंधों को भी मालूम है किसने हरियाणा में बनवाई एसवाईएल सत्यखबर, भिवानी (अमन शर्मा) – प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने कहा है कि एसवाईएल का पानी तो दूर सरकार व राजनीतिक दल भिवानी को सिरसा के बराबर भाखउ़ा से उसके हिस्से का ही पानी दिलवो दें। तो काम चल जाएगा। उन्होंने […]

Published

on

अंधों को भी मालूम है किसने हरियाणा में बनवाई एसवाईएल

सत्यखबर, भिवानी (अमन शर्मा) – प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने कहा है कि एसवाईएल का पानी तो दूर सरकार व राजनीतिक दल भिवानी को सिरसा के बराबर भाखउ़ा से उसके हिस्से का ही पानी दिलवो दें। तो काम चल जाएगा। उन्होंने कहा कि सबको मालूम है कि हरियाणा में एसवाईएल का निर्माण चौ.बंसीलाल ने ही करवाया था व जिसने रूकवाया उनके बारे में सबको पता है कि किनकी वजह से एसवाईएल का पानी नहीं मिल पाया था। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर तो इनेलो ने हमेशा राजनीति ही की है। साथ ही गठबंधन पर कहा कि जातपात के नाम पर राजनीति करने वालों की अब दाल नहीं गलने वाली। जो लोग जातपात की राजनीति करते हैं उनसे घटिया व गंदा कोई नहीं हो सकता।

अप्रैल को दिल्ली में होने वाली कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली को लेकर पूरी तरह कांग्रेसियों ने अपनी ताकत झौंक दी है व कांग्रेसी नेता किसी भी तरह की गैंगबाजी या गुटबाजी से भी अब किनारा करते दिखने लगे हैं। भिवानी में सीएमलपी लीडर किरण चौधरी ने अपने आवास पर आयोजित पत्रकारवार्ता में यह तक कह डाला कि सभी नेता रैली को कामयाब करने के लिए अपने अपने स्तर पर बैठकें कर रहे हें व किसी तरह की गुटबाजी नहीं है। उन्होंने कहा कि गैंग शैंग जैसी भी कोई बात नहीं है बल्कि सब कांग्रेसजन राहुल गांधी के नेतृत्व में एक हैं। खासकर हरियाणा से ज्यादा भागीदारी इस रैली में हो इसके लिए सभी सांसद,विधायक व पूर्व सांसद विधायक वे आम कार्यकर्ता पूरी ताकत झौंके हुए हैं।

किरण चौधरी ने केन्द्र व प्रदेश सरकार को हर मोर्च पर एक बार फिर से विफल करार देते हुए कहा कि पूरे देश व प्रदेश में बीजेपी ने तबाही मचा रखी है। हर कोई चुनावों की बाट जोह रहा है क्योंकि हर वर्ग सरकार से परेशान है। उन्होंने कहा कि सरसों की उठान को लेरक भी सरकार की नीयत में खोट है। सरकार किसानों को एमएसपी नहीं देना चाहती। इसी कारण अनाप शनाप शर्तें किसानों पर थौंपी जा रही हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *