Connect with us

Chandigarh

करनाल के सीतामाई मंदिर का होगा कायाकल्प- पूर्व केंद्रीय मंत्री पासवान

Published

on

सत्यखबर, पानीपत 

पूर्व केंद्रीय मंत्री संजय पासवान ने कहा पटना में जनकनंदिनी सीता माता के नाम पर बड़ा तीर्थ बनाया जाएगा। इसे मिथिला की राजकुमारी देवी सीता तीर्थ नाम देने की योजना है। यही नहीं, इसी सिलसिले के तहत करनाल के पौराणिक तीर्थ स्थल सीता माई के मंदिर का कायाकल्प भी किया जाएगा। प्रस्तावित राम सर्किट में इसे शामिल करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वार्ता की जाएगी।

बता दे की वह रविवार को पीडब्ल्यूडी के गेस्ट हाउस में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उनके साथ सामाजिक अधिकारिता मंत्रालय के सदस्य तथा गुरु रविदास शोध संस्थान के प्रमुख पदाधिकारी सूरजभान कटारिया भी थे। उन्होंने बताया कि अयोध्या में बन रहे रामलला के मंदिर की भव्यता माता सीता के बिना अधूरी है। इसीलिए पटना में मिथिला की राजकुमारी देवी सीता को समर्पित तीर्थ बनाया जाएगा। जहां से भी श्रीराम और सीता गुजरे थे, वहां की माटी पटना लाई जाएगी। करनाल में उन्होंने पत्रकारों से बात की। उन्होंने बताया कि जब यह पता चला कि देश का पहला माता सीता का मंदिर करनाल के सीतामाई में है तो खुद को यहां आने से रोक नहीं पाए। उन्होंने कहा कि वह माता सीता के मायके वाले हैं। उनके लिए सीता धाई हैं और माई सबके लिए हैं। उन्होंने बताया कि राम सर्किट में सीता माई मंदिर को जोडऩे के लिए प्रधानमंत्री से बात करेंगे।