Connect with us

Chandigarh

कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई बहुत दिनों बाद बोले पर ऐसा बोले की सरकार की नींद उड़ गई, जानिए क्या कहा

Published

on

सत्यखबर,चंडीगढ़

कांग्रेस केन्द्रीय कार्यसमिति के सदस्य एवं विधायक कुलदीप बिश्नोई ने प्रदेश की भाजपा-जजपा सरकार पर कोरोना काल के दौरान झूठे वादे करके वाहवाही लूटने व जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया है। उन्होंने प्रदेश सरकार के बड़े झूठ का पर्दाफाश करते हुए कहा कि पिछले वर्ष लॉकडाऊन के दौरान सरकार ने राज्य के बस अड्डों की दुकानों का चार माह का किराया माफ करने का वादा किया था, जो सफेद झूठ निकला और बस अड्डों के दुकानदारों से चार माह का किराया भरवा लिया गया। सरकार की यह कार्रवाई उन दुकानदारों के जख्मों पर नमक छिड़कने वाली साबित हुई है। कांग्रेस नेता ने खरीफ फसलों पर बढ़ाई गई एमएसपी को मामूली बताते हुए कहा कि फसलों पर लागत के मुकाबले एमएसपी की यह बढ़ौतरी न के बराबर है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के चलते प्रदेश में बेरोजगारी दिन-प्रतिदिन फैल रही है, सरकारी भर्तियां ठप पड़ी है और सरकार के रवैये से युवा वर्ग घोर निराशा में जी रहा है।

ये भी पढ़े… यूपी में बड़ा सडक़ हादसा, 17 मरे, दर्जनों घायल,जानिए पूरा हादसा

कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि चाहे केन्द्र की भाजपा सरकार हो चाहे हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार हो, दोनों ही सरकारें धरातल पर काम कर रही है और झूठी घोषणाएं करके वाहवाही लूटने का प्रयास ज्यादा कर रही है। उन्होंने सरकार के झूठ का विस्तार से पर्दाफाश करते हुए कहा कि पिछले वर्ष लॉकडाऊन की वजह से हरियाणा राज्य परिवहन के बस अड्डों की दुकानें 5-6 माह तक बंद रही थी। बस अड्डों पर दुकान करने वाले दुकानदारों के लिए बसें चलना व सवारियों का आना-जाना ही आय का मुख्य साधन है लेकिन पिछले लॉकडाऊन के दौरान जब सब कुछ बंद हो गया तो इन दुकानदारों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया। आमदनी रही नहीं और रोडवेज का लाखों रुपये किराया उन्हें देना पड़ा क्योंकि लॉकडाऊन खुलते ही रोडवेज अधिकारियों ने दुकानदारों पर किराया भरने के लिए दबाव डालना शुरू कर दिया और किराया न भरने पर दुकानदारों को दुकानें बंद करने की धमकियां दी गई। जब दुकानदारों ने सरकार की घोषणा का जिक्र अधिकारियों के सामने किया तो उनका कहना था कि वे इस बारे कुछ नहीं जानते। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग की कि पिछले लॉकडाऊन के दौरान की गई घोषणा पर अमल करते हुए राज्य के बस अड्डों पर दुकान करने वाले दुकानदारों का चार माह का किराया माफ किया जाए और इस वर्ष के किराये में भी उन्हें राहत दी जाए।
कुलदीप बिश्नोई ने एक ओर बढ़ती बेरोजगारी से आम जनमानस परेशान है, वहीं दूसरी ओर पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस की कीमतों में बेहताशा वृद्धि जारी है। पिछले 13 महीनों में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में क्रमश: 25.72 रूपए तथा 23.93 रूपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है। भाजपा सरकार द्वारा की जा रही इस सार्वजनिक लूट के खिलाफ देश भर में रोष है। भाजपा की नीतियां किसान, कमेरे वर्ग को प्रताडि़त करने वाली हैं। 2022 तक किसानों की आदमनी दोगुनी करने का राग अलापने वाली भाजपा सरकार में किसानों को फसल का लागत मूल्य भी नहीं मिल रहा। एक ओर डीजल, यूरिया, डीएपी खाद, दवाईयों की कीमतों में बेहताशा वृद्धि, वहीं दूसरी ओर हरियाणा में 36.7 लाख एकड़ में धान उगाने वाले किसानों के लिए धान की एमएसपी में मात्र 72 रूपए की बढ़ोतरी किसान विरोधी निर्णय है। पिछले 8 सालों में धान की एमएसपी में मात्र 48 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जबकि किसानों की लागत दोगुनी हो गई है। कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि भाजपा-जजपा सरकार अगर चाहे तो राज्य में सरकारी विभागों में रिक्त पड़े लाखों पदों को भरकर पढ़े लिखे बेरोजगारी युवाओं को रोजगार दे सकती है, परंतु गठबंधन सरकार में बैठे नेताओं की कार्यप्रणाली से ऐसा लगता है कि उन्हें सिर्फ अपना घर भरने की चिंता है। पिछले कुछ समय में सामने आए शराब, धान, रजिस्ट्री घोटाले इसी का परिणाम है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *