Connect with us

Haryana

किसानों ने सिरसा टोल प्लाजा पर किया प्रदर्शन, जानिए क्यों

Published

on

 सत्यखबर,सिरसा

देशद्रोह के मामले में किसानों और सिरसा प्रशासन के बीच तीसरी दौर की बैठक भी विफ ल रही। प्रशासन ने किसानों को बातचीत के लिए बुलाया था, लेकिन लंबी चली बैठ के बाद भी कोई निष्कर्ष नहीं निकला। जिसके बाद संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर किसान जत्थेबंदियों ने दो घंटे के लिए भावदीन, खुईयां मुलकाना और पंजवाना टोल प्लाजा को जाम किया।


संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर किसानों ने भारी संख्या में इक्टठे होकर दोनों टोल प्लाजा को जाम किया है। उल्लेखनीय है कि 11 जुलाई को हरियाणा के डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा की गाड़ी पर हमला किया गया था। जिसका आरोप किसानों पर लगा है। डिप्टी स्पीकर की गाड़ी पर उस वक्त हमला हुआ था जब वो हरियाणा के सिरसा जिले में चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेकर लौट रहे थे। आरोप है कि कार्यक्रम के बाद जब डिप्टी स्पीकर और अन्य बीजेपी नेता वापस लौट रहे थे तो किसानों ने उनका काफिला रोक दिया और पथराव शुरू कर दिया। आरोप है कि किसानों ने इस दौरान डिप्टी स्पीकर की गाड़ी के शीशे तोड़ दिए और पुलिस पर भी पथराव किया। किसी तरह पुलिस ने डिप्टी स्पीकर के काफिले को विरोध के बीच वहां निकला था। वहीं इस मामले में सिरसा पुलिस की ओर से दो नामजद और करीब 100 किसानों पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में पुलिस ने 5 किसानों को गिरफ्तार किया हुआ है। जिनकी रिहाई व दर्ज मामले को रद्द कराने की मांग को लेकर किसान लगातार धरने-प्रदर्शन कर रहे हैं। आज का जाम भी इसलिए लगाया गया था।

ये भी पढ़ें… हरियाणा में होगा मंत्रिमंडल का विस्तार सीएम मनोहर लाल खट्टर ने दिया हाईकमान को प्रस्ताव

वहीं सिरसा में बरनाला रोड पर किसानों द्वारा सडक़ के बीच बैठकर दिया जा रहा धरना भी जारी रहा। किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा का आमरण अनशन भी बुधवार को चौथे दिन में प्रवेश कर गया है। बुधवार सुबह भी चिकित्सकों की टीम ने किसान नेता का स्वास्थ्य जाना। लगातार भूखे रहने के चलते उनके शरीर में कमजोरी आने लगी है। बरनाला रोड पर धरनास्थल पर किसान जुटने शुरू हो गए हैं। यहां भारी संख्या में पुलिस बल व आरएएफ तैनात है।