Connect with us

NATIONAL

टिकरी बॉर्डर पर अर्द्धनग्न प्रदर्शन करने वाले किसानों ने पहने कपड़े, क्या रही वजह, जानिए

Published

on

सत्यखबर

कृषि अध्यादेशों को लेकर टिकरी बॉर्डर पर पिछले 76 दिन से धरना-प्रदर्शन कर रहे किसानों ने अब यहां पर अद्र्धनग्र होकर प्रदर्शन न करने का फैसला लिया है। धरना शुरू होने के बाद से ही यहां किसान प्रतिरोज अद्र्धनग्र होकर प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन पिछले कई रोज से जिस तरह से यहां आंदोलन स्थल पर किसानों की ठंड या फिर अन्य कारणों से मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है,उसके बाद से यहां किसान संगठनों की किसानों के स्वास्थ्य के प्रति चिंता बढऩा स्वाभाविक था।

20 अप्रैल से 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं

इसी के चलते अब यहां किसानों ने बुधवार को फैसला लिया कि अब आंदोलन स्थल पर कोई भी किसान अद्र्धनग्र होकर प्रदर्शन नहीं करेगा। किसान नेताओं की माने तो ऐसा किसानों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर किया गया है। बुधवार को बॉर्डर पर ही अद्र्धनग्र होकर प्रदर्शन करने वाले किसानो को कपड़े भी पहनवाएं गए। किसानों का कहना था कि खाप पंचायतों से किसानों को मिल रहे समर्थन से आंदोलन को नई उर्जा मिल रही है। उनका यह भी कहना था कि किसान राजनीति नहीं बल्कि अपने आंदोलन को मजबूत करने में जुटे हुए है। किसानों का यह भी कहना था कि जब तक कृषि कानून रद्द नहीं हो जाते तब तक वह घर नहीं जाएगें।

4 Comments