Connect with us

Assandh

कुट‌्टू का आटा बना ‘जहर’:3 दिन पहले करनाल में 30 लोग हुए बीमार, अब असंध में लड़की की मौत

Published

on

सत्य खबर,असंध

नवरात्र के व्रत खाने वाला कुट्टू का आटा जितना फायदेमंद है, थोड़ी सी असावधानी से उतना ही जहरीला हो जाता है। हर साल व्रत के सीजन में खराब आटे और इससे बीमार होने की शिकायत आती है लेकिन फुड सेफ्टी विभाग इसको लेकर पहले से कोई तैयारी नहीं करता है। जिले में इसके खाने से नवरात्र के दूसरे दिन 30 लोग बीमार हो गए। अब बुधवार असंध में 15 साल की लड़की की मौत हो गई। बल्ला में 7 लोग बीमार हो गए थे। फूड सेफ्टी विभाग ने अब सैपलिंग शुरू की है। जिसकी रिपोर्ट आने में ही नवरात्र बीत जाएगा।

वैसे तो कुट्‌टू का आटा मधुमेह, दिल सहित कई बीमारियों में फायदे मंद होता है, लेकिन व्रत में इसकी मांग अधिक होती है, विशेषकर नव दिन का व्रत होने के कारण नवरात्र में। इसके लिए आटे को पहले से पीस कर तैयार कर लिया जाता है। दुकानदार बीते सीजन में बचे आटें को भी बेच देते हैं। डाक्टरों की मानें तो इसके लिए गाइडलाइन बनानी चाहिए। व्रत का सीजन आने से पहले इसकी सैंपलिंग के लिए अभियान चलाना चाहिए।

लड़की के परिजनों ने जांच की मांग की
वार्ड नंबर 5 नजदीक गणेश मंदिर निवासी रामपाल ने बताया कि उसकी 15 साल की भतीजी कोमल ने नवरात्र के व्रत रखे थे। मंगलवार को कोमल खुद जाकर दुकान से कुट्टू का आटा लेकर आई। उसी के खाने के बाद बीमार हो गई और एक निजी अस्पताल में ईलाज के दौरान मौत हो गई। परिजनों ने इसकी जांच करवाने की मांग की, ताकि अन्य लोगों की सेहत से खिलवाड़ न हो।

विभाग ने लिए सैंपल, रिपोर्ट का इंतजार

करनाल और कुरुक्षेत्र के फूड सेफ्टी ऑफिसर डॉ. संदीप कादियान ने बताया कि असंध, चिड़ाव, मूनक सहित अन्य ऐरिया से कुट्टू के आटे के सैंपल लिए गए हैं। जल्द ही इनकी रिपोर्ट आएगी। अगर आटा की गुणवता में कोई कमी पाई गई तो बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से साफ हो जाएगा कि मौत कैसे हुई है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *