Connect with us

Corona Virus

कोरोना काल में अपने बच्चों की आंखों का रखें इस तरह ख्याल

Published

on

सत्यखबर

कोरोना वायरस के चल रहे इस समय में बच्चों का जीवन काफी प्रभावित हुआ है. बाहर खेलने की बजाए वे घर में फोन और लैपटॉप पर समय गुजार रहे हैं. यही नहीं, स्कूनल की पढ़ाई भी अब मोबाइल लैपटॉप तक सीमित हो गई है जिसकी वजह से उनकी आंखों की सेहत को लेकर एक डर बना रहता है कि कहीं ये खराब ना हो जाएं.

विशेषज्ञों का कहना है कि यदि आप अपने बच्चों के आंखों को सुरक्षित बनाए रखना चाहते है तो इसके लिए कुछ खास बातों का ध्यान में रखें तो उनकी आंखों की रोशनी कमजोर होने से बचा सकते हैं.

1.हर साल आंखों का चेकअप कराएं

यह जरूरी नहीं कि जब आंखों में किसी प्रकार की समस्यार आए तभी डॉक्टर को दिखाया जाए. डॉक्टार यह सलाह देते हैं कि बच्चोंि की आंखों का चेकअप हर साल जरूर कराना चाहिए. यदि आप अपने बच्चे की आंखों की जांच हर साल कराते रहेंगे तो उनकी आंखों की रोशनी लंबे समय तक ठीक रहेगी.

2.खुले वातावरण में ले जाएं

यदि कोरोना की वजह से आप अपने बच्‍चे को आउटडोर गेम नहीं करने दे रहे तो कम से कम उन्हें वीक में दो तीन दिन कुछ देर के लिए बाहर जरूर लेकर जाएं. आप चाहें तो उसे कार में बिठाकर कही आउट साइड सिटी में ले जाएं और थोड़ा खेलने दें. ऐसा करने से ना केवल उनकी आंखें लंबे समय तक ठीक रहेंगी बल्कि उनका शारीरिक और मानसिक विकास भी अच्छा होगा.

3.पौष्टिक और रंगबिरंगे फल और सब्जियां जरूरी खिलाए

यदि आप अपने बच्चे के खाने में पौष्टिक आहार का ध्याअन रखें तो आपके बच्चे ना केवल सेहतमंद रहेंगे, उनकी आंखों की रोशनी भी ठीक रहेगी. ऐसे में उन्हेंे दूध, फिश, अंडा, चिकन, ड्राइफ्रूट्स, फल, सब्जियां आदि खिलाएं. जहां तक हो सके हर रंग के फलों और सब्जियों को बच्चों को खिलाएं.

4.स्क्रीन टाइम करें कम

यदि आपके बच्चे की आंख पहले से कमजोर है तो उनके लिए इलेक्ट्रॉनिक स्क्रीन पर ज्यादा समय बिताना बेहद नुकसानदायक हो सकता है. ऐसे में जब भी बच्चे स्क्रीन पर अपनी आंखें रखते हो तो उन्हें बीच-बीच में ब्रेक लेने कहें.

5.चश्मा् हो तो नियमित रूप से पहनाएं

यदि आपके बच्चे को पहले से चश्मा लगा हो तो उन्हें नियमित रूप से पहनना बहुत जरूरी है. ऐसा करने से स्क्रीन पर देखते वक्त उनकी आंखों पर विशेष तनाव नहीं पडेगा और आंखें ज्यादा खराब नहीं होएंगी.

6.आईड्रॉप का करें सही तरीके से इस्तेोमाल

आंखों में दर्द और थकावट महसूस होने पर कई बार माता पिता कोई भी आईड्रॉप बच्चों की आंखों में डाल देते हैं. ऐसा ना करें. हमेशा डॉक्ट र की सलाह पर ही ऐसा करें.

7. आंखों की एक्सरसाइज करवाएं

आंखों का एक्सरसाइज नियमित रूप से करना बेहद आवश्यक है. बच्चोंस की डेली रुटीन में आंखों का एक्सरसाइज शामिल करें और उन्हेंं इसके लिए मोटिवेट करें. ऐसा करने से आपके बच्चे की आंखें हमेशा हेल्दी रहेंगी.

1 Comment

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *