Connect with us

Corona Virus

कोरोना जांच के लिए कहा तो हवाई अड्डे से भाग गए 300 यात्री, जानिए कहां का है मामला

Published

on

सत्य खबर,सिलचर

अनिवार्य कोविड 19 जांच से बचने के लिए बुधवार को असम के सिलचर हवाई अड्डा पर 300 से अधिक यात्रियों ने हंगामा किया और वहां से भाग गए। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी और कहा कि इन लोगों के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई शुरू की जाएगी। कछार जिले के अतिरिक्त उपायुक्त सुमित सत्तवान ने बताया कि छह विमानों से देश के विभिन्न हिस्सों से कुल 690 यात्री सिलचर हवाई अड्डे पर पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि कोविड 19 जांच के लिए हवाई अड्डे पर तथा पास में स्थित तिकोल मॉडल अस्पताल में इन यात्रियों के नमूने लिए जाने थे, अधिकारी ने कहा जांच शुल्क के लिए 500 रुपये के भुगतान को लेकर लगभग 300 यात्रियों ने इन दोनों स्थानों पर हंगामा किया। असम सरकार ने राज्य में हवाई मार्ग से पहुंचने वाले सभी यात्रियों के लिए कोविड 19 जांच अनिवार्य कर दी है जिसके तहत रैपिड एंटीजन जांच नि:शुल्क की जाती है और फिर आरटी.पीसीआर जांच की जाती है जिसके लिए 500 रुपये का भुगतान करना होता है। रैपिड एंटीजन जांच में संक्रमणमुक्त पाए जाने वाले यात्रियों को भी आरटी.पीसीआर जांच से गुजरना होता है।

यह भी पढ़े:- हरियाणा के अलावा किन राज्यों में है बारिस की संंभावना,जानिए इस खबर में

अधिकारी ने कहा कि हमारे पास उन लोगों का ब्योरा है और हम उनका पता लगाएंगे। हम भारतीय दंड संहिता की धारा 188 लोकसेवक द्वारा लागू आदेश की अवज्ञा करना और अन्य संबंधित धाराओं के तहत आपराधिक कार्रवाई शुरू करेंगे। अधिकारी ने बताया कि 690 यात्रियों में से 189 की जांच की गई जिनमें से छह कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। कई यात्रियों को जांच से छुट दी गई क्योंकि उनका गंतव्य असम की जगह मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा जैसे पड़ोसी राज्यों का था।