Connect with us

Chandigarh

खिलाड़ी के नाम पर हो खेल पुरुस्कार- बबीता फोगाट

Published

on

सत्यखबर, चढ़ीगढ़

हरियाणा की धाकड़ गर्ल के नाम से ट्विटर पर ट्रेंड करने वाली अंतरराष्ट्रीय पहलवान और भाजपा नेत्री बबीता फौगाट अभी भी अपने उस बयान पर कायम हैं, जिसमें उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का नाम जोड़ते हुए टिप्पणी की थी। खेल विभाग में उप-निदेशक बनने के बाद बबीता अपनी ससुराल मातनहेल पहुंचीं।

साथ ही  उन्होंने बेबाक अंदाज में कहा कि खेल पुरस्कार पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम के बजाय किसी महान खिलाड़ी के नाम से दिया जाए, ताकि पुरस्कार हासिल करने वाले खिलाड़ी को भी उसे लेने में गर्व की अनुभूति और ज्यादा हो। साथ ही उन सभी महान खिलाड़ियों को सम्मान मिल सके। बता दें कि बबीता फौगाट ने अपने एक ट्वीट में कहा था कि क्या राजीव गांधी के नाम से इसीलिए खेल रत्न पुरस्कार दिया जाता है कि उन्होंने एक बार भारत से खड़े-खड़े इटली में भाला फेंक दिया था। ट्रोल हुए ट्वीट पर उन्होंने कहा कि मेजर ध्यानचंद, एकलव्य, द्रोणाचार्य सहित उन सभी खिलाड़ियों के नाम से पुरस्कारों को जोड़ा जाए। पति विवेक सुहाग के साथ ससुराल में पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया गया। बबीता ने ग्रामीणों से कहा कि बलाली की तर्ज पर मातनहेल गांव का भी मान बढ़ाने के लिए हर संभव कार्य करेंगी। गांव ने भी बहू नहीं एक बेटी की तरह मान दिया है।