Connect with us

Chandigarh

गुरनाम चढूनी का बड़ा बयान एसकेएम डिसमिस भी कर दे तो भी जारी रहेगा यह मिशन

Published

on

सत्यखबर, चण्डीगढ़

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने बुधवार को यहां मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि अगर संयुक्त किसान मोर्चा उनको डिसमिस भी कर देगा तो भी वे मिशन पंजाब पर काम करेंगे। इसके अलावा वे किसान आंदोलन के लिए भी काम जारी रखेंगे

वहीं एक सवाल के जवाब में चढूनी ने कहा कि किसान आंदोलन का यूपी में ज्यादा असर नहीं है। पंजाब के लोग तीनों पार्टियों से तंग हैं और नई पार्टी बन सकती है। उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने शाम को बुलाया है। देखते हैं क्या फैसला लेते हैं। कल निकालना है तो आज ही निकाल दें। उन्होंने चंडीगढ़ में धारा 144 लगाने के फैसले का विरोध करते हुए कहा कि ये फैसला गलत है। हम किसानों के साथ हैं। शांतिपूर्ण तरीके से चौकों पर खड़ा होने से प्रशासन नहीं रोक सकता, रोकेगा तो हम यहां आकर विरोध करेंगे।

ये भी पढ़ें… अध्यक्ष बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू का शक्ति प्रदर्शन मंत्रियों-विधायकों के साथ स्वर्ण मंदिर पहुंचे

बता दें कि राजनीतिक ब्यानबाजी करने और पंजाब के किसान संगठनों को उकसाने के आरोप पर 14 जुलाई को हरियाणा भाकियू अध्यक्ष गुरनाम चढूनी को संयुक्त किसान मोर्चा से सात दिन के लिए निलंबित कर दिया गया था। फैसले के अनुसार चढूनी एक सप्ताह तक अब किसी मंच पर नहीं जा सकेंगे और न ही किसी बैठक में हिस्सा ले पाएंगे।

वहीं चढूनी ने इस फैसले को गलत बताया था। उन्होंने कहा था कि संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला पूरी तरह से गलत है क्योंकि किसी की विचारधारा के लिए कोई दबाव नहीं दे सकता है। उन्होंने कहा कि मिशन यूपी करना है तो मिशन पंजाब भी करना पड़ेगा और आंदोलन जीतने के लिए रणनीति भी बदलनी पड़ेगी।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: सफीदों पालिका के  भ्रष्टाचार के खिलाफ महाराजा अग्रसैन चौंक पर आमरण अनशन दूसरे दिन भी जारी – Satya khab

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *