Connect with us

Safidon

गुरू गोरखनाथ जयंती पर हो सरकारी अवकाश घोषित: गौरव रोहिल्ला

Published

on

सफीदों, (महाबीर मित्तल)

नगर के गुरू गोरख टीले पर जोगी समाज द्वारा बसंत पंख्चमी पर विशेष समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में बतौर मुख्यातिथि नगर पार्षद गौरव रोहिल्ला ने की। इस मौके पर जोगी समाज द्वारा गौरव रोहिल्ला को पगड़ी पहनाकर जोरदार अभिनंदन किया गया। अपने संबोधन में गौरव रोहिल्ला ने कहा कि 110 वर्षों से ज्यादा से भारत की आध्यात्मिक चेतना को जोगी समाज निरंतर जागृत करने के साथ-साथ सिंचित भी कर रहा है। जिसके लिए भारत की सामाजिक और आध्यात्मिक परंपरा सदैव इस समाज का ऋणी रहेगी। भारत के सबसे बड़े भूभाग पर यह जोगी समाज फैला हुआ है।

जिस समाज का इतिहास इतना स्वर्णिम हो उस पर गर्व तो करना ही चाहिए लेकिन 21वीं सदी की जरूरतों के मुताबिक इस समाज को अभी बहुत आगे ले जाने की और बहुत कुछ करने की जरूरत है। हाल ही में हरियाणा में जोगी समाज को घुमंतू जाति का दर्जा एक लंबे संघर्ष के बाद हासिल हुआ है, तो निश्चित तौर पर समाज को आगे बढऩे में फायदा मिलेगा। बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के प्रयासों से संविधान और संविधान की शक्तियां हमें मिली हैं, एक जागृति गरीब और पिछड़े समाजों में आई है लेकिन उसको आज भी कुंद करने के प्रयास राजनीतिक तौर पर होते रहते हैं।

हरियाणा की आबादी में साढ़े 11 लाख जनसंख्या जोगी समाज की है। चूंकि ये समाज घुमंतू है, प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में फैला हुआ है, बंटा हुआ है इसलिए कोई भी पार्टी कभी राजनीतिक नेतृत्व के लायक नहीं समझती और इनका राजनीतिक प्रतिनिधित्व ना के बराबर है। रोहिल्ला ने कहा कि जोगी समाज की भावना के अनुरूप मैं सरकार से मांग करता हुं कि शिव अवतारी महापुरुष बाबा गोरखनाथ की जन्म जयंती को भी सरकारी तौर पर मनाए और उस दिन राजकीय अवकाश घोषित किया जाए। कार्यक्रम के अंत में विशाल भंडारे का आयोजन किया गया, जिसमें सैंकड़ों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। इस मौके पर प्रमुख्ख रूप से राजकुमार जोगी, गजे सिंह पुण्डीर, राजेंद्र जोगी, सत्यवान जोगी, महावीर जोगी, रमेश जोगी, दिनेश व राममेहर भी मौजूद थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *