Connect with us

Haryana

जहां प्रेम है, वहां प्रभु अवश्य मिल जाएंगे : कविता जैन

सत्यखबर,सोनीपत(संजीव कौशिक   )  महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने कहा कि जहां प्रेम है, वहां प्रभु अवश्य मिल जाएंगे। उन्होंने कहा कि भगवान सर्वत्र हैं और उनके शब्द, विचार मानव को आगे बढने की प्रेरणा देते हैं। भविष्य में सामाजिक बंधन को मजबूत करने के लिए हमें अपने युवाओं को धैर्य और परिश्रम […]

Published

on

सत्यखबर,सोनीपत(संजीव कौशिक  

महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने कहा कि जहां प्रेम है, वहां प्रभु अवश्य मिल जाएंगे। उन्होंने कहा कि भगवान सर्वत्र हैं और उनके शब्द, विचार मानव को आगे बढने की प्रेरणा देते हैं। भविष्य में सामाजिक बंधन को मजबूत करने के लिए हमें अपने युवाओं को धैर्य और परिश्रम से अपना दायित्व निभाने का आह्वान करना चाहिए। रविवार दोपहर रेलवे रोड स्थित निरंकारी भवन परिसर में आयोजित साप्ताहिक सत्संग में मंत्री कविता जैन ने साध-संगत से रूबरू होते हुए कहा कि मानव जीवन भगवान का अनुपम उपहार है। इस जीवन में दुख-सुख, तकलीफ, बुराई की भांति कई चरणों से हमें गुजरना पडता है। इस दौरान यदि हम धैर्य और परिश्रम के बूते आगे बढने की कोशिश करेंगे तो निश्चित तौर पर नकारात्मक दृष्टिकोण से आगे बढते हुए सकारात्मक जीवन की ओर अग्रसर होंगे। उन्होंने मानवता की सेवा पर बल देते हुए भगवान के शब्द और विचार को हमें आत्मसात करते हुए सामाजिक बंधन को मजबूत करना चाहिए। उन्होंने युवा वर्ग को विशेष तौर पर धार्मिक आस्था में रूचि बढाने के लिए आमंत्रित किया, क्योंकि धर्म हमेशा सही मार्ग की ओर लेकर चलने के लिए प्रेरित करता है। यह धर्म ही है, जो हमें कष्ट रूपी वैतरणी से पार लगाने में धैर्य रखते हुए मेहनत करके आगे बढने का अवसर प्रदान करता है।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *