Connect with us

Haryana

जाट धर्मशाला में वीटा मिल्क प्लांट तथा दि-हिसार-जींद साकारी दुग्ध उत्पादक संघ द्वारा सेमिनार का किया आयोजन

Published

on

सत्यख़बर जींद

वल्र्ड मिल्क डे पर शनिवार को जाट धर्मशाला में वीटा मिल्क प्लांट तथा दि-हिसार-जींद साकारी दुग्ध उत्पादक संघ द्वारा सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार में मुख्यअतिथि के तौर पर चेयरमैन महाबीर सिंह, पूर्व चेयरमैन मेहर सिंह, प्रोडक्शन इंचार्ज नरेंद्र व क्वालिटी इंचार्ज कामिनी ने शिरकत की। सेमिनार के दौरान दुग्ध उत्पादकों को प्लांट द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी गई।

सेमिनार को संबोधित करते हुए चेयरमैन महाबीर सिंह ने कहा कि वर्ष 2001 से हर साल एक जून को विश्व दुग्ध दिवस मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य दूध पर ध्यान केंद्रित करने और दुग्ध उद्योग से जुड़ी गतिविधियों को प्रचारित करने का अवसर प्रदान करना है। कई देश एक ही दिन दुग्ध दिवस मानते हैं क्योंकि दूध एक वैश्विक भोजन है। स्वास्थ्य के लिए दूध बेहद जरुरी है। दूध विटामिन, कैल्शियम, प्रोटीन, नियासिन, फॉस्फोरस और पोटेशियम जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। आज दुग्ध उत्पादन किसानों के लिए अतिरिक्त आय का जरिया भी बना हुआ है। ऐसे में सहकारी समितियां दुग्ध उत्पादकता में अहम भूमिका भी निभा रही हैं। इसके अलावा वीटा मिल्क प्लांट द्वारा दुग्ध उत्पादकों के लिए अनेकों जनकल्याणकारी योजनाएं भी चलाई जा रही हैं।