Connect with us

Crime

झारखंड के एक ट्रस्ट में बच्चियों के साथ होता था दुराचार, जानिए पूरा मामला

Published

on

सत्यखबर, नई दिल्ली

झारखंड के जमशेदपुर जिले के टेल्को थाना क्षेत्र अंतर्गत खड़ंगाझाड़ स्थित मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट में बच्चियों के साथ यौन दुराचार का मामला सामने आया है। बच्चियों के साथ इस घिनौनी हरकत को अंजाम देने वाला शख्स कोई और नहीं बल्कि संचालक हरपाल सिंह थापर है। बच्चियों के साथ मानसिक और शारीरिक शोषण का मामला सामने आने के बाद पूरे प्रशासन में हडक़ंप मच गया है। मामले में ट्रस्ट के हरपाल सिंह थापर, गीता देवी, आदित्य सिंह सीडब्ल्यूसी की चेयरमैन पुष्पा रानी तिर्की और सोनी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

ये भी पढ़े… राकेश टिकैत ने कहा- किसान आंदोलन की जीत होगी, क्योंकि ये वैचारिक क्रांति है..

आरोपियों के खिलाफ यह प्राथमिकी नाबालिग बच्चियों से दुष्कर्म, अश्लील हरकत छेडक़ानी और पॉक्सो एक्ट के तहत दर्ज की गई है। पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि ट्रस्ट संचालक ने सिर्फ ट्रस्ट की बच्चियों के साथ ही बल्की वार्डन की बेटी के साथ भी जबरन गलत संबंध बनाए थे। लेकिन वार्डन के दवाब के चलते उनकी बेटी ने इस बात को छिपा लिया और अपने साथ हुई गलत हरकत पर चुप्पी साधे रखी। इसके अलावा अन्य बच्चियों से भी संचालक द्वारा गलत व्यवहार की बात सामने आई है।
मामले का खुलासा तब हुआ जब आदित्यपुर की एक नाबालिग बच्ची ने हाल ही में शिकायत की थी कि ट्रस्ट में उसके साथ आश्रय देने की आड़ में गलत व्यवहार हुआ है। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की और इस संबंध में ट्रस्ट के संचालक हरपाल सिंह थापर और पुष्पा रानी तिर्की से पूछताछ की। अब ट्रस्ट का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। जिसमें इस बात का खुलासा हुआ है कि यहां बच्चियों के साथ किस तरह से गलत काम कराए जाते हैं। वही इस मामले में पुलिस का कहना है कि सही तरीके से जांच के बाद अन्य और भी कई मामले सामने आने की संभावना है।
दरअसल हाल ही में सरायकेला और बागबेड़ा की दो नाबालिग इस ट्रस्ट परिसर से भाग गई थी। जिसके बाद दोनों को बिरसानगर जोन क्रमांक दो से पुलिस ने रेस्क्यू किया था। इसके बाद दोनों बच्चियों से साकची महिला थाना में पूछताछ की गई। अब हाल ही में आदित्यपुर की नाबालिग ने ट्रस्ट में संचालक और अन्य लोगों द्वारा अश्लील हरकत किए जाने का खुलासा किया है। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं ट्रस्ट के संचालक का कहना है कि वह हर तरह की जांच क लिए तैयार है। क्योंकि उसके यहां इस तरह कि कोई हरकत नहीं हुई है। सभी आरोप बेबुनियाद हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *