Connect with us

Fatehabad

टोहाना में इंदिरा गांधी राजकीय महाविद्यालय के निजीकरण के विरोध में छात्रों ने जलाया प्रधानमंत्री का पुतला

Published

on

सत्यखबर टोहाना (सुशील सिंगला) – क्रान्तिकारी युवा संगठन के बैनर तले आयोजित विरोध प्रदर्शन में दर्जनों विद्यार्थी शामिल हुए उन्होंने सरकार विरोधी जमकर नारेबाजी की, निजीकरण के विरोध में नारे लगाए प्रदर्शन में शामिल विद्यार्थी मोदी सरकार द्वारा सरकारी संस्थानों को निजी हाथों में सौपे जाने का विरोध कर रहे थे उन्होंने इंदिरा गांधी कॉलेज के बाहर से यह विरोध प्रदर्शन शुरू किया यह प्रदर्शन भुना रोड, भगवान बाल्मीकि चौक, बस स्टैंड रोड से होते हुए टोहाना के लघु सचिवालय पहुंचे यहां पहुंच कर उन्होंने प्रशासन के माध्यम से राष्ट्रपति भारत सरकार को ज्ञापन सौंपा जिसमें उन्होंने मांग की गई कि सरकार सरकारी संस्थानों को निजी हाथों में सौंपना बंद करें।

प्रदर्शन में शामिल क्रांतिकारी युवा संगठन के सदस्य रवि ने बताया कि आज सरकार शिक्षा स्वास्थ्य परिवहन को प्राइवेट हाथों में सौंपी जा रही है वह एक-एक करके सभी सरकारी विभागों को प्राइवेट कंपनियों को बेचा जा रहा है जबकि सरकारी संस्थान जन हितेषी कार्यों के लिए होते हैं ऐसे में प्राइवेट कंपनियां अकेला अपना मुनाफा कमाने का काम करती है उन्होंने कहा कि जब से मोदी सरकार आई है तब से निजीकरण तेजी बढ़ा हैं। उन्होने कहा कि सरकार इस बात को समझे की आज लोग इस बात से खासे परेशान है। उन्होने कहा कि आज उन संस्थानों को भी निजी हाथों में सौपा जा रहा है जो कि लाभ में है ऐसे में सरकार की नियत पर शक जाता है।