Connect with us

Haryana

डालनवास के लाडले बीएसएफ के जवान धमेंद्र का निधन

राजकीय सम्मान के साथ किया अंतिम संस्कार सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा)। गत 4 सितंबर को ट्रेन में सफर के दौरान क्षेत्र के गांव डालनवास के सैनिक धमेंद्र का निधन हो गया। शुक्रवार को उनका पार्थिव शरीर तिरंगे में लपेटकर गांव डालनवास लाया गया तथा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। जाबांज की […]

Published

on

राजकीय सम्मान के साथ किया अंतिम संस्कार

सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा) गत 4 सितंबर को ट्रेन में सफर के दौरान क्षेत्र के गांव डालनवास के सैनिक धमेंद्र का निधन हो गया। शुक्रवार को उनका पार्थिव शरीर तिरंगे में लपेटकर गांव डालनवास लाया गया तथा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। जाबांज की अंतिम विदाई के मौके पर पूरा गांव व आसपास के गांव के सैकड़ों लोग उमड़ पड़े तथा लोगों ने अश्रुपूर्ण माहौल में अपने जांबाज लाडले को अंतिम विदाई दी। सब इंस्पेक्टर शिवम बीएसएफ 108 बटालियन की तरफ से सैनिक के पार्थिव शरीर को तिरंगे में लेकर गांव पहुंचे तथा बीएसएफ 25 बटालियन छावनी, नई दिल्ली द्वारा मातमी धून बजाते हुए शस्त्र उल्टे कर गमगीन माहौल में नम आंखों से राजकीय सम्मान के साथ श्रदांजलि दी गई।

सब इंस्पेक्टर शिवम ने जानकारी देते हुए बताया कि धमेंद्र बीएसएफ 108 बटालियन में लगभग 5 वर्ष पहले सिपाही के पद पर भर्ती हुए थे तथा पिछले करीब 3 वर्ष से गुजरात के भुज में कार्यरत थे। गत 4 सितंबर को धमेंद्र ट्रेन में सफर कर रहा था, तभी अचानक वह बेहोश हो गया। इसके बाद जब यूनिट की सूचना मिली तो उसे जीके जनरल हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि धमेंद्र बेहद अनुशासनप्रिय, होनहार व जांबाज सैनिक था तथा मिलनसार स्वभाव के चलते वह सबसे मित्रतापूर्वक व्यवहार करता था। सिपाही धमेंद्र की उम्र लगभग 27 वर्ष थी।

धमेंद्र अपने पीछे पिता बीएसएफ 25 बटालियन में इंस्पेक्टर के पद से रिटायर्ड महीपाल सिंह, बड़ा भाई बीएसएफ में सिपाही के पद तैनात महेंद्र सिंह, पत्नी मोनिका व 2 वर्षीय लडक़ा गणेश को छोड़ गए। जैसे ही शुक्रवार सुबह ग्रामीणों को अपने जांबाज सैनिक, होनहार बेटे की मौत का पता चला तो गांव में सन्नाटा छा गया तथा शौक का माहौल बन गया। धमेंद्र के बारे में गांव के ग्रामीणों ने बताया कि वह बहुत ही मृदुभाषी व शांत स्वभाव का लडक़ा था तथा सबसे मिल-जुलकर व हंसी-खुशी रहता था। गांव के लाडले धमेंद्र के अंतिम संस्कार के मौके पर डीएसपी सतेंद्र दहिया, पुलिस थाना सतनाली प्रभारी राजेंद्र, पुलिस दल-बल, पूर्व सरपंच बीरपाल, कै. सूबेसिंह, महीपाल सहित क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामीणों ने पुष्प अर्पित कर नम आंखों से श्रदांजली दी।

 

2 Comments

2 Comments

  1. Pingback: 바카라사이트

  2. Pingback: new facebook login

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *