Connect with us

Chandigarh

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला फिर बने टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष

Published

on

सत्यखबर,चण्डीगढ़ 

एक बार फिर से हरियाणा के उपमुख्यमत्री दुष्यंत चौटाला को टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया (टीटीएफआई) का अध्यक्ष चुना गया हैं। बुधवार को पंचकुला में हुई टीटीएफआई की 84वीं सालाना बैठक में यह चुनाव संपन्न हुआजिसमें सर्वसम्मति से दुष्यंत चौटाला को इस फेडरेशन का दोबारा अध्यक्ष चुना गया। बैठक में चार वर्ष के लिए फेडरेशन की पूरी बॉडी का चुनाव हुआ,  जिसमें डॉ. प्रेम वर्मा को कार्यकारी अध्यक्षधनराज चौधरी को सीईओएमपी सिंह को सलाहकारअरुण बनर्जी को सेक्रेटरी जनरल तथा गुरप्रीत सिंह को फेडरेशन का कोषाध्यक्ष चुना गया।

पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला रिहाई के लिए पहुंचे दिल्ली HC

टीटीएफआई अध्यक्ष की दोबारा जिम्मेदारी मिलने के बाद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि देश में ज्यादा से ज्यादा बच्चों व युवाओं को टेबल टेनिस खेल से जोड़कर उन्हें राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश व प्रदेश का नाम रोशन करने का अवसर प्रदान करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि आगामी ओलंपिक में भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन करेंइसकी पूरी तैयारी की जाएगी। 

 – दुष्यंत चौटाला की मेहनत से भारत में टेबल टेनिस को मिली नई पहचान

दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व में फेडरेशन देश में टेबल टेनिस खेल को नए आयाम तक पहुंचा रही है। देश के टेबल टेनिस खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन कर रहे है। कॉमनवेल्थ-2018 में भारत ने टेबल टेनिस में ऐतिहासिक आठ मेडल जीते तो वहीं एशियन गेम्स में भी बेहतरीन प्रदर्शन के साथ भारतीय खिलाड़ियों ने तीन मेडल अपने नाम किए। भारत में टेबल टेनिस को नई पहचान दिलाने के लिए आईपीएल की तर्ज पर यूटीटी लीग का आयोजन होता है। इसके अलावा पंचकुला स्थित ताऊ देवीलाल खेल स्टेडियम में 15 से 23 फरवरी तक 82वें राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियनशिप-2021 का शानदार आयोजन हुआ और अब आगामी कॉमनवेल्थ टेबल टेनिस चैम्पियनशिप भी इसी इन्डोर स्टेडियम में करवाने की तैयारी है।

– खेलों में काफी रचि रखते हैं दुष्यंत चौटाला

दुष्यंत चौटाला की अपने स्कूल समय से ही खेलों में काफी रुचि रही हैं। उन्होंने बाक्सिंग में गोल्ड मेडल जीता। इसके अलावा उन्होंने स्कूल की बॉस्केटबॉल टीम की कप्तानी भी की। लॉरेंस स्कूल की हॉकी टीम के गोलकीपर भी दुष्यंत चौटाला ही थे।

उम्र छोटीउपलब्धियां बड़ी-बड़ी…

31 साल की उम्र में हरियाणा के उपमुख्यमंत्री बने दुष्यंत चौटाला को पिछले वर्ष बेहद प्रतिष्ठित फोर्ब्स मैगजीन ने आने वाले दशक के दुनिया के 20 सबसे दमदार लोगों की सूचि में शामिल किया था। दुष्यंत चौटाला के शांतमिलनसार स्वभाव और अथक मेहनत वाली राजनीति की चर्चा आज पूरे देश में है।

2 Comments

2 Comments

  1. Pingback: फरीदाबाद : 12 करोड़ के टॉयलेट के रखरखाव में गड़बड़ी को लेकर मेयर ने लिखा CM को पत्र, की ये मांग – Satya khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *