Connect with us

Kurukshetra

डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने कहा खेतों में खड़े फानों व पराली को आग लगाने पर दर्ज होगी एफआइआर

Published

on

सत्यखबर, कुरुक्षेत्र

कुरुक्षेत्र डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने लघु सचिवालय में कृषि विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि खेतों में खड़े फानों और पराली में आग लगाने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की जाएगी। जिले में जीरो टोलरेंस पॉलिसी के आधार पर कार्य किया जाएगा और प्रयास किया जाएगा कि इस बार जिले में जीरो बर्निंग के लक्ष्य को पूरा किया जाए। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए कृषि विभाग की तरफ से 21 गांवों को रेडजोन और 108 गांवों को ओरेंज जोन के रूप में चिह्नित किया है। इन गांवों में कृषि विभाग के एडीओ, पटवारी और ग्राम सचिव नजर रखने के लिए नियुक्त किए गए हैं।

बता दे की इससे पहले फसल अवशेष प्रबंधन को लेकर मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने वीसी के माध्यम से उपायुक्तों, कृषि अधिकारियों, एफपीओ, सीएचसी के संचालकों व प्रगतिशील किसानों के साथ विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष पराली जलाने की घटनाओं में काफी कमी आई थी, लेकिन इस वर्ष का लक्ष्य निर्धारित करके पराली की जीरो बर्निंग होनी चाहिए। धान का सीजन शुरू होने वाला है, इससे पहले प्रत्येक जिले में पराली न जलाने को लेकर एक कार्य योजना तैयार की जाए, जिसके तहत गांव-गांव पहुंचकर किसानों को जागरूक किया जाए और इस बुराई को रोकने के लिए सामाजिक आंदोलन का रूप दें।

साथ ही डीसी ने कहा कि जिले में किसानों को जागरूक करने के लिए गांव-गांव में पंचायतों के माध्यम से शिविर लगाएं जाएंगे और इन शिविरों में कृषि विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ जन प्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाएगा।