Connect with us

Haryana

दबंग हैं आरोपी, इसलिए पुलिस ने नहीं की करवाई

अध्यापक का अपहरण कर बेरहमी से पिटाई मामला सत्यखबर नूंह मेवात – तावडू खंड के गांव मोहम्मदपुर अहीर के निजी स्कूल से अध्यापक का अपहरण कर बेरहमी से पिटाई करने के मामले में पीड़ित परिवार के लोग स्थानीय पुलिस से आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर मिले। अब तक पीड़ित अध्यापक के […]

Published

on

अध्यापक का अपहरण कर बेरहमी से पिटाई मामला

सत्यखबर नूंह मेवात – तावडू खंड के गांव मोहम्मदपुर अहीर के निजी स्कूल से अध्यापक का अपहरण कर बेरहमी से पिटाई करने के मामले में पीड़ित परिवार के लोग स्थानीय पुलिस से आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर मिले। अब तक पीड़ित अध्यापक के परिजन एसपी से लेकर आईजी तक शिकायत दे चुके हैं, लेकिन पीड़ित अध्यापक के परिजनों की सुनने वाला कोई नहीं है। इसी को लेकर मंगलवार को तावडू थाना प्रभारी से आरोपियों को पकड़ने व उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की पुरजोर तरीके से मांग उठाई।

आपको बता दें कि पीड़ित परिजनों का कहना है कि गत 4 अप्रैल दोपहर 12 बजे धनबीर निवासी दादूकी ढाणी अपने साथियों के साथ स्कूल से विक्रम को गाड़ी में जबरन अपहरण कर ले गया। इस दौरान आरोपियों ने अध्यापक की बेरहमी से पिटाई करने के बाद शाम को रास्ते में छोड़ गए। विक्रम की स्थिति को देख उसे इलाज के लिए नूंह सीएचसी ले जाया गया। नूंह सीएचसी के डाक्टरों ने गंभीर हालत को देखते हुए मेडिकल कॉलेज नल्हड के लिए रेफर कर दिया। इसके बाद पुलिस को शिकायत दी, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। काफी प्रयास के बाद पुलिस ने गत 7 अप्रैल को आरोपितों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई। जिन लोगों पर अध्यापक विक्रम की पिटाई करने का आरोप लग रहा है, वह दबंग हैं इसी की वजह से पुलिस उनके खिलाफ कुछ भी कार्रवाई करने से बच रही है।

आरोप है कि पीड़ित दलित परिवार से संबंध रखता है, इसलिए उसकी सुनने वाला कोई नहीं है। करीब 13 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। पीड़ित परिवार स्थानीय पुलिस से आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहा है, लेकिन पुलिस की ओर से सुनवाई नहीं की जा रही। पीड़ित अध्यापक पिछले 13 दिनों से नूंह मेडिकल कॉलेज में उपचाराधीन है। पुलिस की इस कार्यशैली को देख पीड़ित परिवार में भारी रोष बना हुआ है। वहीं दूसरी ओर वारदात से एक दिन पूर्व पुलिस ने आरोपित पक्ष की ओर से पीड़ित परिवार के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया है। तावडू थाना प्रभारी विजय आनंद का कहना है कि पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। जल्द ही दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। अध्यापक के शरीर पर 13 दिन बाद भी निशान साफ ब्यान कर रहे हैं कि आरोपियों ने निजी अध्यापक के साथ जुल्म की सारी इंतहा पार कर दी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *