Connect with us

Chandigarh

दिल्ली और चंडीगढ़ मे वीकेंड कर्फ्यू से रोषित व्यापारी,जानिए क्या कहना है व्यापारियों का…

Published

on

सत्यखबर 

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए चंडीगढ़ और दिल्ली मे वीकेंड कर्फ्यू लगाया गया है। चंडीगढ़ में शुक्रवार रात 10 बजे से लॉकडाउन लगा दिया गया था।  सोमवार सुबह 5 बजे तक रहेगा। शनिवार को सभी प्राइवेट कार्यालय बंद रहे। प्रशासन की ओर से जरूरी सेवाओं के लिए पास जारी किए गए हैं। सड़कों पर वाहन भी कम ही दिखे। उधर, दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को लोगों से प्रतिबंधों का पालन करने की अपील की।कोरोना वायरस लगातार बढ़ता जा रहा है. वायरस के प्रसार को रोकने के लिए शुक्रवार रात 10 बजे कर्फ्यू लगाया गया था,

यह भी पढ़े… कोरोना वायरस का वार.. 24 घंटे में केस 2 लाख 34 हजार के पार

जो सोमवार सुबह पांच बजे तक जारी रहेगा। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए दिल्ली सरकार ने लोगो को जागरूक किया है.जरीवाल ने ट्वीट किया कि कोरोना के कारण दिल्ली में आज और कल कर्फ्यू है।कृपया इसका पालन करें। हमें साथ मिलकर कोरोना को हराना होगा। कर्फ्यू के दौरान आवश्यक सेवाओं जैसे टीका लगवाने वालों, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट इत्यादि जाने वालों और सब्जी तथा फल बेचने वालों के लिए दिल्ली सरकार और पुलिस ने ई-पास जारी किए हैं।

सरकार ने कहा है कि रात्रि कर्फ्यू के लिए पहले से जारी पास सप्ताहांत कर्फ्यू के दौरान भी मान्य होगा। सार्वजनिक परिवहन सेवाओं जैसे डीटीसी और क्लस्टर बस तथा मेट्रो ट्रेन में कमी की गयी है ताकि लोगो मे दुरी बनी रहे और वायरस को रोका जा सके.

वीकेंड कर्फ्यू से व्यापारी नाखुश 

चंडीगढ़ बिजनेस काउंसिल के प्रधान नीरज बजाज का कहना है कि यह वीकेंड लाॅकडाउन लागू करना गैर जरूरी है। इस फैसले से व्यापाार और बर्बाद हो जाएगा। सबसे अधिक मजदूर वर्ग खुद को असुरक्षित महसूस कर रहा है और व्यापार बंद होने से मजदूरों में एक बार फिर पलायन करने की आशंका बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण पर काबू पाने में रेजिडेंट और मार्केट वेलफेयर एसोसिएशनों का सहयोग लेना बेहद जरूरी है। प्रशासन को व्यापारियों के साथ बैठकें करनी चाहिए थी।

2 Comments

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *