Connect with us

Kaithal

दुष्यंत चौटाला बोले- MSP पर खरीदी जाएंगी 6 फसलें, J फोरम कटते ही मिलेगा पैसा

Published

on

सत्यखबर, कैथल (कांता शर्मा)

बड़े दिनों बाद मीडिया के कैमरे के सामने आए प्रदेश के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने किसान आंदोलन को लेकर कहा कि केंद्र सरकार का निरंतर ये प्रयास रहा है कि कृषि कानूनों पर चर्चा हो और चर्चा से ही नतीजा निकले…वहीं उन्होंने किसान नेताओं उम्मीद करते हुए कहा कि आज भी हम ये उम्मीद रखते हैं कि जो 40 अलग-अलग किसान नेता थे वो केंद्र से दोबारा अपनी वार्ता शुरु करें…और वार्ता से ही इस पूरे गतिरोध का समाधान निकालें.

पानीपत : बस स्‍टैंड के नजदीक ग्‍यारहवीं कक्षा के छात्र को दौड़ा-दौड़ाकर मारा

बता दें कि दुष्यंत चौटाला बीती देर रात जेजेपी नेता दिनेश बंसल के निवास पर एक निजी कार्यक्रम के दौरान कैथल पहुंचे थे…इस दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में गेंहू, सरसों समेत 6 फसलें एसएसपी पर खरीदी जाएंगी..और हिंदुस्तान में पहली बार जौ की फसल को भी 1600 रुपये से ऊपर एसएसपी पर हरियाणा सरकार खरीदेगी….वहीं दुष्यंत ने बताया कि फसल बिकने के बाद जे फॉरम कटते ही 48 घंटे में किसानों को उनकी फसल की कीमत मिल जाएगी.

 वहीं डिप्टी सीएम ने जेजेपी के किसानों से दूर जाने के सवाल पर कहा कि जो इतिहास में पहली बार खरीदा जाएगा वो हमारे किसानों का ही खरीदा जाएगा…और किसान के आर्थिक हालात को मजबूत करने के लिए वो पूरी तरह से तैयार हैं…उन्होंने कहा कि मार्च में फसल खरीद के लिए एक एक किसान को बेहतर व्यवस्था के साथ मंडियों में बुलाया जाएगा..
आंदोलनरत किसानों के समाधान को लेकर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि ये पूरी मुहिम एसएसपी पर शुरु हुई थी और केंद्र ने लिखकर दिया है कि एसएसपी रहेगी…फिर इस मुहिम को बिजली बिल समेत अन्य 25 मुद्दों पर ले जाया गया….डिप्टी सीएम ने कहा कि 40 किसान नेता बात करने को तैयार हो तो वो केंद्र से बात करेंगे
बता दें कि इस दौरान दुष्यंत चौटाला ने डॉक्टर अशोक तंवर को उनकी नई पार्टी बनाने पर बधाई दी और कहा कि आने वाले समय में ये देखने की बात होगी कि उनका ये मोर्चा किन एजेंडा के साथ काम करेगा ये तो भविष्य के गर्भ में है..वहीं अभय चौटाला के इस्तीफा देने वाले प्रश्न पर बोलते हुए दुष्यंत चौटाला ने स्वर बदलते हुए कहा कि क्या आप अभय चौटाला को सीरियस पॉलीटिशियन मानते हैं अगर नहीं मानते तो आप ही उनके इस्तीफे को मंजूर कर लेना.

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: सोनीपत : उपायुक्त पूनिया ने लघु सचिवालय परिसर में स्टाम्प विक्रेताओं की जांच की, अवैध स्टाम्प विक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *