Connect with us

Chandigarh

परीक्षा:सरकारी स्कूलों में तीसरी से 8वीं तक ऑनलाइन-ऑफलाइन होंगी परीक्षाएं

Published

on

सत्यखबर

प्रदेश मे तीसरी से आठवीं कक्षा तक सालाना परीक्षाएं ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से कराई जाएंगी। कोरोना की वजह से जहां बच्चों की पढ़ाई बाधित हुई है, इस कारण शिक्षा विभाग ने निर्णय लिया है कि तीन महीने में तीन बार यह एग्जाम होंगे।

दिल्ली हिंसा का आरोपी दीप सिद्धू गिरफ्तार, पुलिस ने रखा था 1 लाख रुपये का इनाम

पहला एग्जाम फरवरी, दूसरा मार्च और तीसरा अप्रैल में लिया जाएगा। इन तीनों पेपरों की परफॉरमेंस के आधार पर एवरेज अंक दिए जाएंगे। यह पेपर अवसर ऐप के जरिए होंगे। यदि फरवरी में किसी विद्यार्थी के अंक कम आते हैं, तो मार्च या अप्रैल में होने वाले एग्जाम में अच्छी तैयारी के साथ जा सकेगा। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में करीब 23 लाख से अधिक विद्यार्थी पढ़ते हैं, जबकि कुल मिलाकर सभी स्कूलों में यह आंकड़ा 50 लाख से अधिक है।

शिक्षा विभाग ने सत्र 31 मई तक बढ़ाया

शिक्षा विभाग ने वर्ष 2020-21 का शैक्षणिक सत्र भी दो महीने के लिए बढ़ा दिया है। यह 31 मार्च तक पूरा होना था, लेकिन अब इसे 31 मई तक कर दिया गया है। यानी इस अवधि में शिक्षा विभाग की योजना है कि सभी एग्जाम पूरे कर लिए जाएं। हालांकि यह तो बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों के तय होने बाद ही पता चल सकेगा।

अभी बोर्ड परीक्षा भी तय नहीं

जहां सीबीएसई ने बोर्ड परीक्षाओं यानी 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं की तारीखों का दो फरवरी को ऐलान कर दिया था, लेकिन हरियाणा शिक्षा बोर्ड ने अभी इन तारीखों की घोषणा नहीं की है। संभावना यही जताई जा रही है कि फरवरी के अंत या फिर मई के पहले सप्ताह में बोर्ड की सालाना परीक्षाएं शुरू हो सकती हैं।

तीसरी से 5वीं की कक्षा शुरू करने और गर्मी की छुटि्टयाें पर संशय

अभी गर्मी में होने वाली करीब डेढ़ माह की छुटि्टयों पर भी संशय बना हुआ है। क्योंकि बाेर्ड की परीक्षाएं लंबी चल सकती हैं। कोरोना की वजह से अबकी बार पढ़ाई भी सालभर में पूरी नहीं हो पाई है। स्कूल लंबे समय तक बंद रहे हैं। गर्मी की छु‌टि्टयों का निर्णय भी सरकार को करना है। प्रदेश के स्कूलों में छठी से 12वीं कक्षा तक पढ़ाई शुरू हो चुकी है।

हालांकि कोविड की वजह से विद्यार्थी इतनी संख्या में स्कूलों में नहीं पहुंच रहे, लेकिन फिर भी अभिभावकों ने बच्चों को स्कूल भेजना शुरू कर दिया है। अभी तीसरी से पांचवीं कक्षा तक कब स्कूल खुलेंगे, यह निर्णय शिक्षा विभाग नहीं ले पाया है। इसके लिए फाइल तैयार कर विभाग ने उच्चाधिकारियों को भेजी है।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: 11 माह बाद खुले कॉलेज और यूनिवर्सिटी कक्षाएं ठप, जानिए विश्वविद्यालयो में कक्षाओं के हालात – Satya khab

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *