Connect with us

Panipat

पानीपत : साथियों के साथ मिलकर चाकू गोदकर मार डाला, जानिए पूरा मामला

Published

on

सत्यखबर

मां-बाप की मौत के बाद मामा के पास ही रहता था.चांदनी बाग थाना क्षेत्र की शास्त्री कॉलोनी में मामूली कहासुनी के बाद मामा के लड़के ने अपने साथियों के साथ मिलकर बुआ के लड़के पर चाकू से वार कर दिए। परिजन घायल को लेकर सिविल अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई ने मामा के लड़के व उसके साथियों के खिलाफ चांदनी बाग थाने में केस दर्ज कराया है। पुलिस हत्यारे की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

चक्काजाम : किसान एकता जिंदाबाद के नारों से एकता का संदेश दिया

मूलरूप से कुरुक्षेत्र जिले के पैहवा निवासी सन्नी ने बताया कि वह और उसका 21 वर्षीय भाई गुरमीत सिंह उर्फ काका पानीपत की शास्त्री कॉलोनी में अपने बड़े मामा हरदेव के पास रहते थे। वह दोनों कैब ड्राइवर थे। करीब 15 दिन पहले गुरमीत की छोटे मामा करनैल सिंह के लड़के सुखदेव सिंह उर्फ सुखा के साथ कहासुनी हुई थी। बताया कि रविवार करीब 10 बजे सुखदेव ने गुरमीत को फोन करके घर के बाहर बुलाया। उसके साथ 4-5 लड़के भी थे।

सुखदेव और उसके साथियों ने गुरमीत के साथ मारपीट शुरू कर दी। शोर सुनकर वह मौके पर पहुंचा। तब एक युवक ने चाकू से गुरमीत के पेट पर वार कर दिये। अन्य लोगों के आने पर आरोपी भाग निकले। चाकू लगने से गुरमीत का काफी खून बह गया। वह गुरमीत को लेकर सिविल अस्पताल पहुंचे, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए शव को मोर्चरी में रखवाया है। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

मां-बाप की मौत के बाद मामा के पास रहते थे दोनों भाई
सन्नी ने बताया कि बीमारी के कारण 2004 में उनकी मां और करीब 5 साल पहले बीमारी से ही पिता की मौत हो गई। मां की मौत के बाद से ही वह अपने बड़े मामा हरदेव सिंह के पास रहते है। गुरमीत और सुखदेव के बीच झगड़े का असली कारण उन्हें नहीं पता है।

2 Comments