Connect with us

Haryana

पुलिस ने छह युवकों के खिलाफ हत्या और शव को खुर्द-बुर्द करने का किया मामला दर्ज

Published

on

सत्यखबर, जींद 

बिशनपुरा गांव के निकट 19 दिन पहले रेलवे लाइन पर मिले युवक के शव के मामले ने यू टर्न ले लिया है। शव मिलने के दिन उसके भाई ने ट्रेन की चपेट में आने से मौत होना बताया था, लेकिन अब छह युवकों पर शराब पीने के दौरान हुए झगड़े के चलते हत्या करने के आरोप लगाए हैं। शिकायतकर्ता ने आरोपित युवकों के फोन की रिकार्डिग भी पुलिस को सौंपी है। इसमें आरोपितों की आपस में हो रही बातचीत में हत्या की आशंका जताई है। पुलिस ने छह युवकों के खिलाफ हत्या और शव को खुर्द-बुर्द करने का मामला दर्ज किया है। रेलवे पुलिस मामले की जांच कर रही है। नगूरां गांव निवासी जयभगवान ने रेलवे पुलिस को बताया कि उसके छोटे भाई जितेंद्र का 6 मई को गांव बिशनपुरा के निकट रेलवे लाइन पर शव मिला था। उस समय उन्होंने रेलवे लाइन पार करते समय हादसा होने के बयान दर्ज किए थे। उसे बाद रेलवे पुलिस ने इत्तेफाकिया हादसा मानकर शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया था। अब जयभगवान ने दोबारा रेलवे पुलिस में शिकायत दी कि पांच मई की जितेंद्र ने अपने साथियों के साथ एक ढाबा पर शराब पी रहे थे। जहां पर शराब पीने वालों में कप्तान, शीलू, संजय, मंजीत, अरुण और शीशन उर्फ लीला शामिल थे। जहां पर शराब पीने के दौरान आरोपितों के साथ झगड़ा हो गया और उसके बाद उसकी हत्या की गई है। उसकी हत्या का पता अब उन्हें चला है। इस मामले में लीला व कप्तान के फोन पर बात करते हुए की रिकार्डिग उनके पास है, इसलिए उनको आशंका है कि इन आरोपितों ने हत्या कर शव को रेलवे लाइन पर डाला है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर कप्तान, शीलू, संजय, मंजीत, अरुण और शीशन उर्फ लीला के खिलाफ हत्या व शव को खुर्द-बुर्द करने का मामला दर्ज किया है।