Connect with us

Haryana

फतेहबाद के हालात, गलियां बनी दरिया और सड़के बनी समुद्र…

Published

on

सत्य खबर, फतेहाबाद, राजेश भांभू

उत्तर भारत में छाए मानसून के चलते जारी बरसात ने फतेहाबाद में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं….ऐसे में जिले में तीसरे दिन भी रुक रुककर बारिश हो रही है….पिछले 24 घंटे में हुई भयंकर बारिश के कारण शहरी के कई इलाके डूबने की कगार पर पहुंच चुके हैं…शहर की बात करें तो सभी सड़कें, गलियां चौराहे और घरों के पास पड़ी खाली जगहें समंदर बन चुके हैं…देर रात करीब 2:00 बजे से जारी बरसात के कारण हालात इतने खराब हो गए स्कूलों में शुक्रवार सुबह छुट्टी की घोषणा करनी पड़ी…छुट्टी का ऐलान हालांकि जिला प्राइवेट स्कूल संघ की और से किया गया…जबकि सरकारी स्कूलों के बारे में प्रशासन ने कोई फैसला नहीं लिया….देर रात से जारी बरसात के कारण सुबह पानी से सभी रास्ते बंद होने के कारण एक तरफ जहां लोग सैर पर नहीं निकल पाए…वहीं जरूरी काम के लिए भी लोग घर से बाहर नहीं निकल पाए और एक तरह से लोग घरों में कैद होकर रह गए

जिले की हंस कॉलोनी से सामने आई तस्वीरों में बरसात के पानी से हुए जलभराव से मकान गिरे हुए दिखाई दिए…. मकानों के ढहने से बचाने के लिए लोगों ने जेसीबी से मकानों की नींव को मिट्टी से पाटा…यहां जल निकासी का कोई रास्ता नहीं बचा है….अभिभावक अनिल कुमार ने बताया कि लगातार बरसात होने के कारण शहर में चारों तरफ पानी ही पानी भरा हुआ है और आने जाने के सभी रास्ते बंद है। आज सुबह स्कूल से फोन आया कि स्कूल बंद रहेंगे क्योंकि बच्चों के आने जाने के लिए कोई रास्ते नहीं है सभी तरफ पानी ही पानी भरा हुआ है….

यह भी पढ़े…शिक्षा निदेशालय हरियाणा ने प्रदेश के विद्यालयों में होने वाले चार स्थानीय अवकाशों की तिथियों की घोषणा की

वहीं जिला प्राइवेट स्कूल संख्या निवर्तमान प्रधान और स्कॉलर कान्वेंट स्कूल के डायरेक्टर शैलेन भास्कर ने बताया कि फतेहाबाद में लगातार बारिश होने के कारण सभी सड़कें, गलियां जलमग्न है और जलभराव के कारण रास्ते बंद होने से ट्रांसपोर्ट चलने में परेशानी है। इस कारण आज अपने विवेक से जिला प्राइवेट स्कूल संघ की ओर से लगभग सभी स्कूलों में अवकाश रखने का ऐलान किया गया।

फतेहाबाद इलाके में लगातार जारी बरसात के कारण शहर के तहसील चौक में खाटू श्याम मंदिर के सामने एक पुरानी खंडहर इमारत का ऊपरी हिस्सा गिर गया जिसकी लाइव तस्वीरें सामने आई है। लाइव वीडियो में इमारत का ऊपरी हिस्सा अचानक ढहते दिखाई दे रहा है और पूरा मलबा नीचे सड़क पर गिरते दिखाई दे रहा है। गनीमत यह रही कि रिहायशी इलाका होने के बावजूद जानी नुकसान नहीं हुआ। लोगों की नजर पहले से ही इस इमारत के गिरने पर थी और लोग मोबाइल के कैमरे भी ओपन करके बिल्डिंग गिरने का इंतजार ही कर रहे थे इसलिए नीचे सड़क पर आवाजाही बंद थी और यही बचाव का कारण रहा..बहरहाल लोगों में गुस्सा इस कदर था कि बरसात के पानी के बीच खड़े होकर प्रशासनिक सिस्टम को कोसते नजर आए….

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *