Connect with us

Uncategorized

फर्जी चेक के जरिये 36 लाख की ठगी की कोशिश

बैंक भी खा गया गच्चा, एक चैक हुआ क्लियर, दुसरे में फसे सत्यखबर, अंबाला (रोजी बहल) – ज्वेलरी शो रूम पर 36 लाख से ऊपर की ठगी की कोशिश एक फर्जी चेक के जरिये करने की कोशिश का मामला सामने आया है। आरोपियों ने फर्जी चेक से साढ़े 26 लाख पेमेंट भी क्लीयर करवा दी […]

Published

on

बैंक भी खा गया गच्चा, एक चैक हुआ क्लियर, दुसरे में फसे

सत्यखबर, अंबाला (रोजी बहल) – ज्वेलरी शो रूम पर 36 लाख से ऊपर की ठगी की कोशिश एक फर्जी चेक के जरिये करने की कोशिश का मामला सामने आया है। आरोपियों ने फर्जी चेक से साढ़े 26 लाख पेमेंट भी क्लीयर करवा दी थी लेकिन 10 लाख के चेक की पेमेंट नही करवा पाए तो सामान लेकर भाग गए बाद में पुलिस ने लुधियाना के राज कुमार को साढ़े 36 लाख की ज्वेलरी के साथ काबू कर लिया ।

अंबाला शहर के अग्रसेन चोंक स्थित तनिष्क शो रूम पर 2 लोग ज्वेलरी खरीदने आये देखते ही देखते 36 लाख से ऊपर की ज्वेलरी दोनों ने पसन्द कर पैक करवा ली। इसके बाद उन्होंने शो रूम के मालिक को 2 चेक दिए, दोनो थे तो फर्जी लेकिन हु ब हु असली जैसे जिससे बैंक भी गच्चा खा गया और साढ़े 26 लाख की पेमेंट क्लीयर कर दी जिसका बकायदा मैसेज शो रूम मालिक के पास आय लेकिन 10 लाख की पेमेंट क्लीयर नही हुई तो आरोपी भाग खड़े हुए। बताया जा रहा है कि इनका तीसरा साथी इनकी बाहर गाड़ी में इंतजार कर रहा था। ज्वेलरी लेने के बाद तीनों में से 2 तो भाग गए लेकिन आरोपी पकड़ा गया।

ऐसा ही एक मामला इससे पहले अंबाला कैंट में भी आ चुका है जिसमे भी ठीक इसी तरीके से ठगी को अंजाम दिया गया था जिसमे आरोपी पकड़ा नही जा सका। बताया जा रहा है कि तीनों ठग लुधियाना के रहने वाले थे और आपस में जानकार हैं जिन्होंने मिलकर ठगी करनी चाही लेकिन समय रहते पकड़े गए। इस सारे खेल के मास्टरमाइंड 2 व्यक्ति हैं जो भागने में कामयाब रहे, इस बुजुर्ग को सिर्फ इसलिए साथ लाये थे ताकि किसी को शक न हो। इसलिए उन्होंने राज कुमार को भागने के बाद रास्ते मे उतार दिया और सामान उसे पकड़ा दिया ताकि वे पकड़े भी जाये तो ज्वेलरी न पकड़ी जा सके लेकिन उनकी यह चाल अंबाला पुलिस और ज्वेलरी शो रूम के स्टाफ की चुस्ती के आगे नही चल सकी जिससे एक बड़ी ठगी होने से टल गई।

इस मामले में सामने आ रहा है कि आरोपियों ने जिस महिला किरण जीत कौर का चेक व अकाउंट नम्बर इस्तेमाल किया था उसका आधार कार्ड व पेन कार्ड भी इनके पास था इन्होने खाता धारक का मोबाईल नम्बर डायवर्ट कर रखा था जिसके कारण चेक क्लियेरेंस का काल इनके ही आदमी के पास पहुंचा, लेकिन एक मैसेज ने सारी पोल खोलकर रख दी। अब पुलिस को उम्मीद है कि इनके पकड़ में आने से कई वारदाते सुलझेंगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *