Connect with us

Haryana

बिजली कर्मचारियों ने किया रोडवेज कर्मचारियों का समर्थन, किया रोष प्रकट

बसों का निजीकरण करना प्रदेश सरकार का गलत फैसला – छत्रसिंह सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा) – हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर्स यूनियन के कर्मचारियों ने रोष प्रकट कर किया रोडवेज कर्मचारियों का समर्थन। सोमवार को हरियाणा कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर कस्बा स्थित 132 के.वी. पावर हाउस प्रांगण में प्रधान छत्रसिंह की अध्यक्षता में […]

Published

on

बसों का निजीकरण करना प्रदेश सरकार का गलत फैसला – छत्रसिंह
सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा) – हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर्स यूनियन के कर्मचारियों ने रोष प्रकट कर किया रोडवेज कर्मचारियों का समर्थन। सोमवार को हरियाणा कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर कस्बा स्थित 132 के.वी. पावर हाउस प्रांगण में प्रधान छत्रसिंह की अध्यक्षता में हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर्स यूनिय के कर्मचारियों द्वारा रोडवेज कर्मचारियों का समर्थन कर सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों एवं तानाशाही रवैये के विरोध में नारेबाजी कर रोष प्रकट किया गया।

इस मौके पर प्रधान छत्रसिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार 740 बसों का निजीकरण करने का फैसला लेकर रोडवेज कर्मियों व आम जनता के साथ खिलवाड़ कर रही है। इससे आमजन को अत्यधिक परेशानियों का सामना करना पड़ेगा क्योंकि बसों के निजीकरण से त्यौहारों पर महिलाओं के लिए नि:शुल्क यात्रा, पढऩे वाली छात्राओं के लिए बस पास तथा वरिष्ठ नागरिकों का आधा किराया आदि सुविधाओं से आमजन वंचित रह जाएंगे।

अगर सरकार समय रहते रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी के कर्मचारियों की उचित मांगों का समाधान नहीं करती है तो हरियाणा कर्मचारी महासंघ व तालमेल कमेटी केंद्रीय कार्यकारिणी के आदेश पर कर्मचारी आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेंगे तथा इस रोष-प्रदर्शन में किसी भी प्रकार के औद्योगिक व सामाजिक अशान्ति होगी उसके लिए प्रदेश सरकार स्वयं जिम्मेदार होगी। आज इस रोष-प्रदर्शन में सभी बिजली कर्मचारियों ने बढ़-चढक़र भाग लिया। इस अवसर पर कमल सिंह, श्रवण सिंह, सतवीर शर्मा, प्रदीप, अरूण, श्रवण, गिरधारी, विपीन, रामकिशन, राजकुमार, देवेंद्र, दिनेश आदि कर्मचारी उपस्थित रहे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *