Connect with us

Haryana

बीडीपीओ ने दुकानदारों के सुनाया दुकानें खाली करने का फरमान, 12 जून को है 31 दुकानों की बोली निर्धारित

Published

on

सत्यखबर सफीदों (महाबीर मित्तल) – नगर के जींद रोड पर बीडीपीओ कार्यालय के बाहर स्थित 31 दुकानों के किराएदारों को खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी ने दुकाने खाली करने का फरमान जारी की दिया है और इस फरमान से दुकानदारों में हडक़ंप की स्थिति और रोष व्याप्त है। बता दें कि बीडीपीओ इन 31 दुकानों को खाली करवाकर नए सिरे से दुकानों की बोली करवाकर किराए पर देना चाहते हैं और इसके लिए उन्होंने किराएदारों को नोटिस जारी कर दिया है। पहले यह बोली 4 जून को निर्धारित थी लेकिन यह किन्ही कारणों से यह बोली 12 जून के लिए स्थगित कर दी गई है।

इस समस्या को लेकर इस मार्किट के दुकानदार नगर के मिनी सचिवालय पहुंचे और एसडीएम मनदीप कुमार को इस बोली को रूकवाने के लिए ज्ञापन सौंपा। दुकानदार सतबीर, रमेश, रामनिवास, राजेंद्र, ओमप्रकाश, हितेंद्र, जोगिंद्र सिंह, उषा रानी, महा सिंह, चंद्रभान, सतबीर, रामफल, सतबीर, जितेंद्रपाल, दीपक व विक्की समेत अनेक दुकानदारों का कहना है कि खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय के बाहर स्थित 31 दुकानें उन्होंने पिछले 25-30 सालों से किराए पर ली हुई है। वे अपना किराया निर्धारित समयावधि में भरते आ रहे हैं। उनके द्वारा भरे गए किराए की सभी रसीदें उनके पास हैं।

इन दुकानों के लिए उन्होंने बतौर सिक्योरिटी राशि भी जमा करवाई हुई हैं। वे पिछले लंबे समय से इन दुकानों में छोटे-छोटे रोजगार कर रहे हैं। उनके परिवार के गुजर-बसर का एकमात्र साधन केवल ये दुकानें ही हैं, इसके अलावा आय का उनके पास कोई साधन नहीं है। खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी उनके रोजगार को मिटाने के मकसद से उन्हे 27 मई को ये दुकानें खाली करने का नोटिस जारी कर दिया है। बीडीपीओ द्वारा उनको रोजगार से वंचित करना किसी तरह से भी न्यायोचित नहीं है।

दुकानदारों का यह भी कहना है कि अगर विभाग उनका किराया बढ़ाना चाहता है तो वे नियमानुसार किराया बढ़ाने के लिए भी तैयार हैं। उन्होंने सरकार और प्रशासन से मांग की कि उनके रोजगार को छिना ना जाए और इस बोली को तत्काल प्रभाव से रद्द करवाया जाए। ज्ञापन लेकर एसडीएम मनदीप कुमार दुकानदारों को उचित कार्रवाई का भरोसा दिया।