Connect with us

Haryana

बुरे लोगों से मुश्किल से छूटा है पीछा – दिग्विजय चौटाला

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) – बुरे लोगों से मुश्किल से पीछा छूटा है, इसलिए कार्यकत्र्ता पार्टी को मजबूत करने के लिए पूरे जोश के साथ संगठन को आगे लेकर जाएं। यह बात इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने शुक्रवार देर सांय इनसो कार्यालय का उद्घाटन करने के उपरांत पत्रकारों को कही। इससे पहले कई […]

Published

on

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) – बुरे लोगों से मुश्किल से पीछा छूटा है, इसलिए कार्यकत्र्ता पार्टी को मजबूत करने के लिए पूरे जोश के साथ संगठन को आगे लेकर जाएं। यह बात इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने शुक्रवार देर सांय इनसो कार्यालय का उद्घाटन करने के उपरांत पत्रकारों को कही। इससे पहले कई लोगों ने पार्टी में आस्था जताते हुए चौटाली की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन की। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि इनसो को ताकत देने व नई ऊर्जा का संचार करने के लिए संगठन से जुडऩा आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि इनसो से लगभग 3.50 लाख विद्यार्थी जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि इनसो ने प्रदेश सरकार को छात्र संघ चुनाव करवाने के लिए बाध्य किया और सरकार को उनकी बात माननी भी पड़ी। उन्होंने कहा कि इनसो में बुरे व असामाजिक तत्वों का कोई स्थान नहीं है और उनका भी बुरे लोगों से मुश्किल से पीछा छूटा है। सांसद दुष्यंत चौटाला व स्वयं के निष्कासन पर उन्होंने कहा कि उन पर बदले की भावना से कार्रवाई की है। उनकी लड़ाई अन्याय के विरूद्ध है। इसके लिए युवा पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि कुछ लोग पार्टी को पटरी से उतारने के लिए प्रयासरत हैं और कार्यकर्ताओं को दिशाहीन कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि टूटते-बिखरते प्रदेश को संवारने के लिए इनैलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला के हाथ मजबूत करना जरूरी है। इस अवसर पर जसवंत कोयल, इनसो जिलाध्यक्ष नरेन्द्र श्योकंद, बिट्टू नैन, कश्मीरा नैन, रोबिन ढांडा, प्रवीण श्योकंद, अमन मोर, सुनील सिहाग, विकास धमतान, प्रदीप बूरा, चरणजीत मिर्धा, राजेश सिंहमार, प्रदीप मोर, नरेश दनौदा, सुरेश राठी सहित अनेक कार्यकत्र्ता मौजूद रहें।

राम के वनवास से ज्यादा समय हो गया है कार्यकर्ताओं का
इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा कि इनैलो कार्यकर्ता 15 साल से वनवास काट रहे हैं और उनका वनवास तो श्रीराम के 14 साल के वनवास से ज्यादा का हो गया है। उन्होंने कहा कि जो भी पार्टी की रीढ़ मेहनती कार्यकर्ता पर उंगली उठाएगा, उसे कतई सहन नहीं करेंगे। उनकी लड़ाई सम्मान की लड़ाई है और नरवाना के कार्यकर्ता की पावर तो एक विधायक व सांसद से भी ज्यादा है। उन्होंने कहा कि इनैलो कार्यकत्र्ता तो मुख्यमंत्री का हाथ पकड़कर अपने काम करवाता थे, जबकि प्रदेश का मुख्यमंत्री मनोहर लाल तो भाजपा कार्यकर्ताओं को भी कोई तवज्जों नहीं देते।

3 Comments

3 Comments

  1. Pingback: 안전놀이터

  2. Pingback: rolex replicas for sale

  3. Pingback: austin landscaper

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *