Connect with us

Haryana

बड़ी बहन के साथ हो रही नाबालिक छोटी बहन की शादी बाल संरक्षण विभाग ने रुकवाई

7 बेटियों का पिता कर रहा था दो बेटियों की शादी सत्य खबर, रेवाड़ी (संजय कौशिक) – गांव असदपुर निवासी रमेश के घर में बुधवार को अपनी दो बेटियों की शादी थी। परिजन विवाह की तैयरियों में जुटा हुआ था और बारात के स्वागत की तैयारियां चल रही थी। इसी दौरान विवाह स्थल पर पुलिस […]

Published

on

7 बेटियों का पिता कर रहा था दो बेटियों की शादी

सत्य खबर, रेवाड़ी (संजय कौशिक) – गांव असदपुर निवासी रमेश के घर में बुधवार को अपनी दो बेटियों की शादी थी। परिजन विवाह की तैयरियों में जुटा हुआ था और बारात के स्वागत की तैयारियां चल रही थी। इसी दौरान विवाह स्थल पर पुलिस व बाल संरक्षण की टीम को आता देखकर परिजन घबरा गए। बाल सरंक्षण अधिकारी सरिता शर्मा ने रमेश को बेटियों की उम्र के दस्तावेज दिखाने को कहा गया। दस्तावेजों के अनुसार एक बेटी की उम्र 18 वर्ष व एक की साढे 14 वर्ष पाई गई। सरिता शर्मा ने छोटी बेटी की शादी न करने के आदेश दिए और लिखित में लिया कि वह अपनी छोटी बेटी की शादी नहीं करेगा। सरिता ने गांव के सरपंच को बुलाकर उससे भी लिखित में लिया कि अगर नाबालिग की शादी हुई तो उसकी जिम्मेवारी होगी।

इसके बाद सरिता शर्मा महिला पुलिसकर्मी, बाल संरक्षण विभाग के अधिकारियों को मौके पर बिठा कर लौट गई। इस मौके पर डीईओ प्रमोद कुमार, जितेन्द्र, महिला पुलिसकर्मी पूनम, ममता, उषा बाई व सतीश कुमार आदि टीम में शामिल थे।

क्या कहना है माता-पिता का:
बेटियों के पिता रमेश व मां कविता का कहना है वह मजदूरी कर घर को पालता है। उनके 7 बेटियां है और आज एक साथ दो बेटियों की शादी करना चाहता थे। बारात बहरोड़ के गांव राणौली से आनी है। लेकिन अब दो बेटियों की शादी की बजाए एक बेटी की ही शादी होगी। 7 बेटियों की शादी का बोझ उन्हें दिन-प्रतिदिन सताता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *