Connect with us

Haryana

भाजपा प्रत्याशियों की हार देखकर घबराए शाह – दिग्विजय चौटाला

Published

on

सत्यखबर जींद (ब्यूरो रिपोर्ट) – जननायक जनता पार्टी के नेता दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा है कि आज भाजपा हरियाणा में दुष्यंत चौटाला की लोकप्रियता से घबरा गई हैं जिससे की स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रैली करने हरियाणा में आना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा की भाजपा में प्रत्याशियों की हार के चलते भाजपा में बुरी तरह से घबराहट है कि अमित शाह ने ऐन मौके नारनौंद, टोहाना सहित हरियाणा का दौरा रद्द कर दिया। दिग्विजय ने कहा कि भाजपा में घबराहट का इस बात का भी प्रमाण हैं की भविष्य में जजपा की ही सरकार बनेगी।

वहीं दिग्विजय ने खटकड़ में लगाए गए टोल को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री बिरेंद्र सिंह डूमरखां पर कड़ा प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि उचाना की जनता की जेब पर डाका डालने और किसानों के खून-पसीने की कमाई को लूटने की नीयत से गांव खटकड़ में डोल स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि खटकड़ टोल प्लाजा विधानसभा चुनावों को देखते हुए शुरू नहीं किया गया और चुनाव होने के बाद वाहन मालिकों से आसपास टोल से एक तिहाई से अधिक राशि वसूली जाएगी। उन्होंने कहा कि उचाना हलके के लोग सबसे ज्यादा जींद जाते हैं और पूरा उचाना हलका इसी टोल से गुजरेगा उनसे भी टोल वसूला जाएगा।

उन्होंने कहा कि अधिक टोल की दरे निर्धारित होने के चलते इसमें बिरेंद्र सिंह डूमरखां की मिलीभगत नजर आ रही है और वे जनता की जेब से अपनी तिजोरियां भरना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जिस समय खटकड़ टोल लगाने का प्रस्ताव उस समय बिरेंद्र सिंह डूमरखां केंद्र में मंत्री थे। यदि बिरेंद्र सिंह चाहते तो न तो खटकड़ गांव में टोल लगता और न ही इस टोल की दरें अन्य टोलों से 36 प्रतिशत ज्यादा होती। उन्होंने कहा कि बिरेंद्र सिंह को उचाना हलके की जनता से कोई मतलब नहीं है वे तो सिर्फ उचाना की जनता का मानसिक, आर्थिक व राजनैतिक शोषण करना जानते हैं।

उन्होंने कहा कि उचाना हलके के पिछड़ेपन के लिए पूरी तरह से बिरेंद्र सिंह डूमरखा का परिवार जिम्मेवार है जिसने केवल सत्ता की मलाई का सवाद चखा है, हलके की जनता की तकलीफों और उनकी समस्याओं से डूमरखां परिवार को कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्यसाभा सांसद बिरेंद्र सिंह का पिछले 15 सालों से सत्ता का स्वाद चख रहे हैं, उन्होंने उचाना हलके का कितना विकास करवाया है, इसकजीता जागता प्रमाण उचाना मंडी है जहां आज भी खुली नालियां है और पांच दशकों में डूमरखां परिवार सीवरेज तक का प्रबंध नहीं कर सका।

भाजपा पर हमलावर दिग्विजय ने कहा की दुष्यंत से घबराकर मुख्यमंत्री खटटर ने एक बार फिर से प्रदेश के आंतरिक भाईचारे को खराब करने की कोशिश की है उनका ब्यान प्रदेश में कोई चौधरी नहीं रहने दूंगा इस बात का प्रमाण है। दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा और आर एस एस का देश की आजादी की लडाई में कोई योगदान नहीं था। यह लोग तो झूठी देश भक्ति का राग अलापते रहते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपाइयों द्वारा हरियाणावासियों को देशभक्ति सीखाने की जरूरत नहीं है जिसके सपूत देश की सीमा पर 24 घंटे अपने प्राण न्यौछावर करने को तैयार रहते हैं और देश की रक्षा करते हैं।

जेजेपी नेता ने कहा कि भाजपा के लोगों ने कभी भी भाईचारा बनाना नहीं सीखा, उन्होंने तो सिर्फ समाज को तोडऩा सीखा है। भाजपा को भाईचारे का दुश्मन बताते हुऐ दिग्विजय ने कहा की जब हरियाणा जल रहा था तो भाईचारे को बर्बाद करने वाले गिरोह में अपने आपको भाजपा का बड़ा नेता बताने वाले लोग तमाशा देख रहे थे।

उन्होंने बिना नाम लिये पूर्व केंद्रीय मंत्री वीरेन्द्र सिंह का केवल चुनावी वादे करने वाला नेता बताया। दिग्विजय ने कहा की कुछ लोग उचाना की जनता को पिछले काफी वर्षों से बरगला रहे हैं वह लोग केंद्रीय मंत्री होते हुए भी क्षेत्र की जनता को कोई न ई सौगात नहीं दे पाये और केवल परिवार को नेता बनाने में ही लगे रहे। दुष्यंत चौटाला को पढा लिखा और हरियाणा का भविष्य बताकर उन्होंने भारी मतों से जितवाने का आहवाहन किया ।उन्होंने कहा की दुष्यंत चौटाला जैसा युवा जब मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठेगा तो हरियाणा की जनता की भलाई की पोलिसी बनाई जाऐगी।

उन्होंने आह़्वान किया कि प्रदेश की तरक्की और भाईचारा की मजबूती के लिए जेजेपी के मुख्यमंत्री चेहरा दुष्यंत चौटाला को 21 अक्टूबर को जितवाकर विधानसभा में पहुंचाना। दिग्विजय ने कहा की उचाना ने डा.अजय सिंह, दुष्यंत चौटाला सहित हमारे परिवार को राजनीतिक ऊंचाई दी थी। जनता एक बार फिर से क्षेत्र के जींद जिले की सभी विधानसभा सींटे जीतकर इतिहास बनाऐगी। भाजपा और कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा की जजपा उम्मीदवार के सामने विपक्षियों को दमदार उम्मीदवार नहीं मिले। प्रधानमंत्री का रैलियां करना इस बात का प्रमाण बन चुका है की अब दुष्यंत चौटाला का मुख्यमंत्री बनना तय हैं।

दिग्विजय चौटाला सोमवार को कलायत और उचाना हलके के दौरै पर थे। इस दौरानजनसभाओं में भारी भीड़ देखकर दिग्विजय ने कहा की जिस दिन प्रदेश में जेजेपी सरकार आएगी, उसी दिन से किसान, कमेरे, दलित के 5 लाख के कर्जे पहली कलम से माफ करेंगें। शिक्षा का सुधारिकरण कर शिक्षा बजट 9 सौ करोड से बठाकर 27 सौ करोड करने का काम करेंगे। टयुबल का कनेक्शन मुफ्त दिया जाऐगा। प्रदेश के युवाओं को बहुराष्ट्रीय कंपनियों में 75 प्रतिशत आरक्षण दिया जाऐगा। सरकारी नौकरीयां समान रूप दी जाऐगी। लड़कियों को पीएचडी तक की शिक्षा फ्री दी जाऐगी। बुढापा पैंशन 2 हजार से बढाकर 51 सौ की जाऐगी तथा पेंशन घर घर दी जाऐगी।