Connect with us

Haryana

यमुनानगर में बाप बेटी का रिश्ता हुआ कलंकित

नाबलिग ने लगाए अपने ही पिता पर छेड़छाड़ के आरोप सत्यखबर, यमुनानगर (सुमित ओबेरॉय) – पिता के जुल्मों सितम छेड़छाड़ से परेशान नाबलिग महिला थाने पहुंची लेकिन वहां कारवाई से असंतुष्ट वहाँ से भाग निकली। जिसके बाद महिला पुलिस के हाथ पैर फूल गए। वहाँ से निकलने के बाद नाबलिग रेलवे स्टेशन पर निराश होकर […]

Published

on

नाबलिग ने लगाए अपने ही पिता पर छेड़छाड़ के आरोप

सत्यखबर, यमुनानगर (सुमित ओबेरॉय) – पिता के जुल्मों सितम छेड़छाड़ से परेशान नाबलिग महिला थाने पहुंची लेकिन वहां कारवाई से असंतुष्ट वहाँ से भाग निकली। जिसके बाद महिला पुलिस के हाथ पैर फूल गए। वहाँ से निकलने के बाद नाबलिग रेलवे स्टेशन पर निराश होकर बैठ गयी। लेकिन जब जीआरपी पुलिस ने उसे देखा और पूछा तो वो भी उसकी बात सुनकर हेरॉन रह गए क्योंकि वो अपने पिता पर ही गम्भीर आरोप लगा रही थी। इसके बाद जीआरपी पुलिस ने महिला पुलिस से सम्पर्क किया और जब महिला पुलिस जीआरपी पुलिस स्टेशन पहुंची तो वहाँ उसी नाबलिग को देखकर महिला पुलिस और जीआरपी एसएचओ में उसे लेकर बहस हुई और तर्क वितर्क शुरू हो गए। नाबलिग भी बोलती रही और पूरी बहस की वही महिला पुलिस ने कहा कि ये शौचालय जाने की बात कह कर वहां से उठी थी और शौचालय की चाबी लेकर भाग निकली। लम्बी बातचीत के बाद नाबलिग को महिला पुलिस के हवाले किया गया।

बाप बेटी का रिश्ता जो इस दुनिया मे सबसे पवित्र होता है यमुनानगर में एक बार फिर शर्मसार हुआ है। यहाँ एक नाबलिग के साथ उसके पिता ही छेड़छाड़ और गलत हरकते कर रहे थे। नाबलिग के अनुसार पिछले 3 साल से उसके पिता उसके साथ वो सब कर रहे थे जिसे सुनकर भी घृणा हो जाये।

नाबालिग ने पूरी आपबीती बताई की जब से में छोटी थी पिता के साथ ही सोती थी तब से ही मेरे पिता मेरे साथ छेड़छाड़ करते थे अब जब में 14 साल की हुई तो तब मेरे पिता मेरे सभी प्राइवेट पार्ट्स को छेड़ने लगे। दिन ब दिन में घुटती जा रही थी। भाई न समझ था माँ ने कोई एक्शन नही लिया माँ सब जानती थी लेकिन माँ पिता की मार झुक जाती थी। खुद ही मैंने निर्णय लिया और महिला थाने गयी थी शिकायत दी थी इन्होंने कोई एक्शन नही लिया। अब जीआरपी ने विश्वास जताया है कि शायद अब मुझे इंसाफ मिलेगा।

वहीँ सगीन आरोपों से घिरे पिता ने बताया मेरे शक था कि लड़की गलत है। बाहर कही लड़को की गलत संगत में है इसलिए मैंने इसे सुधारने के लिए समझाने की बात की और इसी बात से नाराज़ हो कर अब ये ऐसा कर रही है मैंने कुछ भी ऐसा नही किया।

एसएचओ जीआरपी बृजपाल ने बताया कि आज जब वो रेलवे स्टेशन पर गश्त कर रहे थे तब उनकी टीम को एक लड़की स्टेशन पर बैठी मिली। जब उससे पूछा गया कि बेटे यहाँ क्यों बैठे हो तब उसने बताया कि मेरे साथ बहुत अन्याय हो रहा है मेरे पिता ही मेरे साथ गलत काम करना चाहते है में कुछ भी कर लुंगी लेकिन में घर नही जाऊँगी। मैंने इस बात की शिकायत महिला थाने में दे रखी है। महिला पुलिस के हवाले लड़की को कर दिया है वो आगे की कारवाई कर रहे है। इस पूरे मामले की सच्चाई जांच के बाद ही सामने आएगी लेकिन नाबलिग के आरोपो ने पवित्र रिश्ते पर एक बार फिर सवालिया निशान खड़े कर दिए है।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: Devops Consulting

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *