Connect with us

Haryana

यूपीएससी की परीक्षा में सोनीपत की लड़की ने हासिल किया दूसरा स्थान

हरियाणा की लड़की ने दिखाया लड़कियां नहीं हैं लड़कों से कम सत्यखबर, सोनीपत (संजीव कौशिक) – हरियाणा की जमीन को खेलों की जमीन कहा जाता है लेकिन हरियाणा की लड़कियों ने कई बार साबित किया कि हरियाणा खेलों के साथ साथ पढ़ाई में भी अव्वल रहा है आज देश की सबसे बड़ी परीक्षा UPSC में […]

Published

on

हरियाणा की लड़की ने दिखाया लड़कियां नहीं हैं लड़कों से कम

सत्यखबर, सोनीपत (संजीव कौशिक) – हरियाणा की जमीन को खेलों की जमीन कहा जाता है लेकिन हरियाणा की लड़कियों ने कई बार साबित किया कि हरियाणा खेलों के साथ साथ पढ़ाई में भी अव्वल रहा है आज देश की सबसे बड़ी परीक्षा UPSC में सोनीपत की रहने वाली अनु कुमारी नाम की लड़की ने नंबर दो रैंक हासिल कर यह साबित कर दिया कि हरियाणा की लड़कियां हर वर्ग में लड़कों से आगे हैं। UPSC में नंबर दो रैंक हासिल कर अनु कुमारी ने अपना ही नहीं अपने माता-पिता का और अपने प्रदेश का नाम पूरे देश में रोशन किया है।

खुशी मना रहा है या परिवार सोनीपत का रहने वाला है और इस परिवार की बेटी अनु ने इस परिवार का नाम रोशन किया है वह भी वह परीक्षा पास कर जिसका सपना हर मां बाप देखता है अनु ने यूपीएससी परीक्षा में नंबर दो रैंक हासिल कर इस परिवार को खुशी मनाने का मौका दिया है इस मौके पर अनु कुमारी ने कहा कि मुझे आज नंबर दो रैंक हासिल कर अपना ही नहीं अपने माता-पिता का नाम रोशन किया है। मैं इस सफलता का श्रेय अपने माता पिता को देना चाहती हूं। अनु कुमारी ने कहा कि वह IAS को चुनेगी और देश की सेवा करेगी उन्होंने कहा कि उनकी सफलता के पीछे पिछले 1 साल से कड़ी मेहनत करना रहा है। वह रोजाना 10 से 12 घंटे पढ़ाई करती थी और उसी का नतीजा है कि उसने UPSC में नंबर दो रैंक हासिल किया वह IAS बनकर महिलाओं और लड़कियों के सशक्तिकरण के लिए काम करेगी।

अब आपको अनु कुमारी के बारे में कुछ बताते है, अनु कुमारी एक शादीशुदा महिला है और उनका 4 साल का एक लड़का भी है लेकिन शादी ने आईएएस बनने के सपने में बाधा नही पहुँचाई, ससुराल वालों और पति का सहयोग उससे पूरा मिला, अनु कुमारी ने अपने स्कूल की पढ़ाई सोनीपत से और ग्रेजुएशन बीएससी फिजिक्स ऑनर्स दिल्ली विश्वविद्यालय से और एमबीए की पढ़ाई नागपुर आईएमटी से और वो नो साल तक एक प्राइवेट कंपनी में अपनी सेवाएं दे चुकी है।

अनु की सफलता पर अनु के पिता बलजीत सिंह को बड़ा गर्व है। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी ने उनका ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश का नाम देश में रोशन किया है। बलजीत सिंह ने कहा कि आज मुझे इतनी खुशी है कि इसको मैं एक्सप्लेन नहीं कर सकता अनु बचपन से ही शिक्षा में अव्वल रही है बलजीत सिंह ने कहा कि वह अपनी बेटी से उम्मीद करता है कि वह जब IAS बनकर देश के प्रति इमानदारी से काम करें और देश का नाम रोशन करें और महिला और लड़कियों के सशक्तिकरण के लिए काम करें।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: buy dumps online 2021

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *