Connect with us

Haryana

राजकीय महाविद्यालय सतनाली में अभाविप द्वारा चलाया गया सदस्यता अभियान, बैठक आयोजित

सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा) अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला महेंद्रगढ़ इकाई द्वारा राजकीय महाविद्यालय सतनाली में सदस्यता अभियान तथा छात्र संघ चुनाव हेतु बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में मुख्य वक्ता के रूप में अभाविप के जिला प्रमुख सचिन महायच उपस्थित रहे। उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि अभाविप दुनिया का […]

Published

on

सत्यखबर, सतनाली मंडी (मुन्ना लाम्बा)

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला महेंद्रगढ़ इकाई द्वारा राजकीय महाविद्यालय सतनाली में सदस्यता अभियान तथा छात्र संघ चुनाव हेतु बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में मुख्य वक्ता के रूप में अभाविप के जिला प्रमुख सचिन महायच उपस्थित रहे। उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि अभाविप दुनिया का सबसे बड़ा छात्र संगठन है जो समय-समय पर छात्रों की समस्याओं हेतु संघर्षरत रहता है। छात्रों की समस्याओं को जानने के लिए आज इस महाविद्यालय में बैठक का आयोजन किया गया है। विद्यार्थियों की समस्याओं का समाधान अभाविप का उद्देश्य एवं लक्ष्य है।

इस अवसर पर उन्होंने छात्र संघ चुनाव पर बोलते हुए कहा कि 22 वर्षों के बाद हरियाणा में छात्र संघ चुनाव होने जा रहे हैं। सडक़ से लेकर हरियाणा विधानसभा तक अभाविप ने छात्रसंघ चुनाव के लिए संघर्ष किया है, जिसके कारण ही सरकार द्वारा छात्र संघ चुनाव बहाल किए गए हैं। उन्होंने छात्र संगठनों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि एनएसयूआई तथा इनसो वंशवाद की राजनीति करने वाले छात्र संगठन है। इन्होंने कभी भी छात्रसंघ चुनाव के लिए कोई संघर्ष नहीं किया है क्योंकि 10 वर्षों तक तक कांग्रेस की सरकार व 6 वर्षों तक इनेलो की सरकार हरियाणा में रही, तक इनको कभी भी छात्र संघ की याद नहीं आई तथा आज यह लोग राजनीति करने पर उतारू हैं। लेकिन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद वंशवाद की राजनीति करने वाले छात्र संगठनों को मुंहतोड़ जवाब देने का माद्दा रखता है। अपनी जोरदार उपस्थिति के साथ पूरे हरियाणा प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों में भगवा परचम लहराएगा।

इस अवसर पर अभाविप के नगर उपाध्यक्ष विनोद सैनी ने कहा की अभाविप 50 लाख की सदस्यता के साथ दुनिया का सबसे बड़ा छात्र संगठन है। पूरे हरियाणा प्रदेश में कैंपस जनसंपर्क अभियान जोरदार तरीके से चल रहा है। जिसपर अभाविप का मत है कि विद्यार्थियों की समस्याओं का तत्परता के आधार पर समाधान करवाया जाए तथा उन्हें राष्ट्रवादी छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जोड़ा जाए ताकि महाविद्यालयों में नेचुरल लीडरशिप सामने आए और वंशवाद का खात्मा हो। इस अवसर पर महाविद्यालय सतनाली के संयोजक अंकित शेखावत, अनुराग गोठवाल, प्रवीण कुमार, नवीन कुमार, संदीप शेखावत, अजय शेखावत समेत अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *