Connect with us

Haryana

राजकीय स्कूल में स्वच्छता व फसल अवशेष न जलाने का संदेश देते बच्चे : शर्मा

पिल्लूखेड़ा,(संजय जिन्दल): राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पिल्लूखेड़ा व ढाठरथ के विद्यार्थियों व स्वयं सेवकों ने स्वच्छता पखवाड़ा के तहत स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम में सफाई अभियान चलाया। जिसकी अध्यक्षता खंड शिक्षा अधिकारी व ढाठरथ के प्राचार्य रामनिवास शर्मा ने की। इस दौरान विद्यार्थियों ने स्कूल के प्रांगण, दीवारों व आस-पास के क्षेत्र में साफ सफाई […]

Published

on

पिल्लूखेड़ा,(संजय जिन्दल):
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पिल्लूखेड़ा व ढाठरथ के विद्यार्थियों व स्वयं सेवकों ने स्वच्छता पखवाड़ा के तहत स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम में सफाई अभियान चलाया। जिसकी अध्यक्षता खंड शिक्षा अधिकारी व ढाठरथ के प्राचार्य रामनिवास शर्मा ने की। इस दौरान विद्यार्थियों ने स्कूल के प्रांगण, दीवारों व आस-पास के क्षेत्र में साफ सफाई की। शर्मा ने बताया कि स्वच्छता का यह कार्यक्रम 2 अक्टूबर तक विभिन्न गतिविधियों के द्वारा चलाया जाएगा। ढाठरथ में राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम के अधिकारी डा. जगमहेंद्र ने विद्यार्थियों को स्वच्छता का महत्व एवं गंदगी से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तार से बताया। इसी दौरान दोनों विद्यालयों के विद्यार्थियों ने हाथों  में स्लोगन लिखी हुई पट्टियां लेकर कस्बे व गांव की गलियों में साफ सफाई एवं फसल काटने के बाद फसल के अवशेष न चलाने के लिए लोगों को जागरूक व प्रेरित किया। खंड शिक्षा अधिकारी रामनिवास शर्मा ने बताया कि फसल के अवशेष जलाने से पर्यावरण नुकसान होता है। भूमि की उपजाऊ शक्ति नष्ट होती है और मित्र कीट खत्म हो जाते हैं। अवशेषों को जलाने से उत्पन्न होने वाले धुंऐ से कई प्रकार की भयंकर बीमारियां हो जाती हैं। आंखों पर धुंऐ का असर पडऩे से आंखों की रोशनी तक चली जाती है। सभी विद्यार्थियों ने इस दौरान संकल्प लिया कि हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के स्वच्छता अभियान को सफल बनाएंगे।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *