Connect with us

Haryana

रामनिवास सुरजाखेड़ा को गांवों में मिला समर्थन भारी, अब आई शहर की बारी

Published

on

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान) :-

नरवाना विधानसभा क्षेत्र में जेजेपी प्रत्याशी रामनिवास सुरजाखेड़ा वाल्मीकि को गांव में तो पूरा समर्थन मिल ही रहा है, तो अब शहर का रुख भी प्रत्याशी रामनिवास सुरजा खेड़ा वाल्मीकि की ओर बढऩे लगा है। शुक्रवार को रामनिवास सुरजाखेड़ा ने जेजेपी नेताओं व कार्यकर्ताओं के साथ शहर में डोर टू डोर किया। बाद में वे अनाज मंडी में आढ़तियों, किसानों तथा मजदूरों का समर्थन लेने पहुंचे। उस समय कार्यकर्ताओं में इतना जोश भरा हुआ था कि वे अपने को दुष्यंत चौटाला जिंदाबाद, रामनिवास वाल्मीकि जिंदाबाद के नारे लगाने से नहीं रोक सके। रामनिवास सुरजाखेड़ा ने कहा कि गत गुरुवार को हुई मुख्यमंत्री मनोहर लाल की रैली फ्लॉप साबित हुई, क्योंकि नरवाना की जनता ने जेजेपी प्रत्याशी रामनिवास वाल्मीकि को विजयी बनाने का मन बना लिया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपने भाषण में पिछले 5 साल की कारगुजारियों का तो जिक्र किया, लेकिन पार्टी प्रत्याशी के लिए वोट की अपील करना वे भूल ही गए। वह इसलिए कि भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं में घमण्ड इस कद्र भरा हुआ है कि वो जनता से वोट मांगने की जरूरत ही नहीं समझते।

विकास का पीटा जा रहा खामखाह ढिंढोरा
रामनिवास सुरजाखेड़ा ने कहा कि भाजपा की नियत में खोट को नरवाना की जनता समझ चुकी है और 21 अक्टूबर को जेजेपी प्रत्याशी के पक्ष में वोट डालकर दुष्यंत चौटाला को मुख्यमंत्री बनाने का मन बना चुकी है। उन्होंने कहा कि बीजेपी वाले विकास की बात करते हैं, लेकिन हमें तो नरवाना में विकास कहीं ढूंढने से भी नजर नहीं आ रहा। इसलिए इस जुमलेबाज तथा झूठी सरकार से छुटकारा पाने के लिए 21 अक्टूबर को चाबी के निशान के सामने वाला बटन दबाकर आपके अपने सेवक बेटे को सफल बनाएं और आपकी अपनी चहेती सरकार जेजेपी की सरकार को सत्ता सौंपें। इस दौरान मियां सिंह सिहाग, बलवान दनौदा, बिट्टू नैन, बलराज दनौदा, रघबीर नैन, वेद फौजी, महावीर लोन, कृष्ण धरौदी, कश्मीरा, अमर लोहचब, पवन नैन, राजेश फुलियां आदि वरिष्ठ कार्यकर्ता साथ रहे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *