Connect with us

Haryana

रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में बिजली व जनस्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने की हड़ताल

सत्यखबर सफीदों (महाबीर मित्तल) – हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में अब बिजली व जनस्वास्थ्य महकमें के कर्मचारी भी आ गए है और इन दोनों महकमों के कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा की दी है। हरियाणा कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर एचएसईबी वर्कर यूनिट सफीदों के कर्मचारियों ने प्रधान जितेंद्र भारद्वाज की अगुवाई में […]

Published

on

सत्यखबर सफीदों (महाबीर मित्तल) – हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में अब बिजली व जनस्वास्थ्य महकमें के कर्मचारी भी आ गए है और इन दोनों महकमों के कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा की दी है। हरियाणा कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर एचएसईबी वर्कर यूनिट सफीदों के कर्मचारियों ने प्रधान जितेंद्र भारद्वाज की अगुवाई में सोमवार को नगर के एक्सईएन कार्यालय में हड़ताल करते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बिजली कर्मचारियों ने अपने संबोधन में कहा कि हरियाणा सरकार हठधर्मिता अपनाते हुए महकमों में नीजिकरण को निरंतर बढ़ावा दे रही है।

हरियाणा सरकार 720 निजी बसों को परमिट जारी करने के पीछे मकसद युवाओं को रोजगार देना नहीं बल्कि पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाना है। सरकार को जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार ने रोडवेज कर्मियों की मांगों को नहीं माना तो आंदोलन को ओर अधिक तेज कर दिया जाएगा। कर्मचारियों ने ऐलान किया की जब तक रोड़वेज कर्मचारियों की बातों को पूरा नहीं कर दिया जाता तब तक बिजली कर्मचारी लगातार हड़ताल पर रहेंगे। इस मौके पर मुख्य रूप से यूनिट प्रधान जितेंद्र भारद्वाज, सीताराम पांचाल, सतपाल शर्मा, जयसिंह बिटानी, महेंद्र खेड़ा, नरेश देशवाल, वजीर लंबा,शिवकुमार शर्मा, दर्शन लाल, सुबे सिंह, रामधन, अमित, राकेश, रतन वर्मा, संदीप, गांगुली व रवि के अलावा काफी तादाद में बिजली कर्मचारी मौजूद थे।

वहीं दूसरी ओर रोडवेज कर्मचारियों समर्थन में ही जन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने अपने कार्यालय प्रांगण में हड़ताल करते हुए सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया। ऑल इंडिया पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल कर्मचारी यूनियन के प्रधान दलवीर कौशिक ने कहा कि सरकार प्राइवेट बसों के परमिट जल्द से जल्द रद्द करते हुए रोडवेज कर्मचारियों की मांगों को जल्द से जल्द पूरा करें। हरियाणा सरकार कर्मचारियों के खिलाफ एस्मा, निलंबन व गिरफ्तारी जैसी कार्रवाईयां तुरंत बंद करें अन्यथा यह आंदोलन और गति पकड़ेगा जिसकी सारी जिम्मेवारी हरियाणा सरकार की होगी। उन्होंने साफ किया कि जन स्वास्थ्य विभाग का हर कर्मचारी रोडवेज कर्मचारियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर डटकर खड़ा है। इस मौके पर मुख्य रूप से बंसीलाल, राजवीर अत्री, देवराज शर्मा, मुमताज अली, श्रीभगवान, होशियार सिंह, संदीप, अजय, अनिल, सुखदेव, नसीब मोरखी व सुरेंद्र सहित अन्य कर्मचारी मौजूद थे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *