Connect with us

Haryana

शहरवासियों के सहयोग से लखनऊ के डिजाइनर करेंगे गुम्बज को तैयार – सतीश गुलाटी

सत्यखबर तरावड़ी (रोहित लामसर) – श्री सनातन धर्म सभा तरावड़ी द्वारा निर्माणाधीन कृष्णा भवन में मंदिर के गुम्बज के निर्माण कार्य का शुभारंभ किया गया। श्री सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष सतीश गुलाटी के नेतृत्व में करवाए जा रहे इस गुम्बज की कुल लंबाई 81 फुट तक होगी। अब तक का यह सबसे बड़ा गुम्बज […]

Published

on

सत्यखबर तरावड़ी (रोहित लामसर) – श्री सनातन धर्म सभा तरावड़ी द्वारा निर्माणाधीन कृष्णा भवन में मंदिर के गुम्बज के निर्माण कार्य का शुभारंभ किया गया। श्री सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष सतीश गुलाटी के नेतृत्व में करवाए जा रहे इस गुम्बज की कुल लंबाई 81 फुट तक होगी। अब तक का यह सबसे बड़ा गुम्बज होगा। इस गुम्बज का निर्माण लखनऊ के डिजाइनर हरिओम के नेतृत्व में किया जाएगा। करीब 3 से 4 महीनों में इस गुम्बज का निर्माण पूरा हो जाएगा। यह निर्माण कार्य नगर के सभी लोगो के सहयोग से किया जा
रहा है।

आज सुबह कृष्णा भवन में श्री सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष सतीश गुलाटी, वरिष्ट उपाध्यक्ष मदनलाल सचदेवा, सचिव हरीश चावला, कोषाध्यक्ष अरविन्द गाबा, वरिष्ठ सदस्य लालचंद मुंजाल, पूर्व अध्यक्ष लक्ष्मण सेठी, पूर्व अध्यक्ष कृष्ण रहेजा, प्रबंधक सोमप्रकाश कालड़ा, संरक्षक फत्तेचंद चावला, प्यारा लाल काठपाल, सतपाल सचदेवा, सोम छाबड़ा, श्यामलाल गिरधर, सतीश कालड़ा, विजय गुलाटी, नरेश जुनेजा, नरेश छाबड़ा, शम्मी सचदेवा, सुरेश कालड़ा, श्याम बुटी, हरीश आनन्द, वीरभान गल्होत्रा, विकास तगेजा, सुभाष रहेजा, सुरेन्द्र सरदाना, संजीव रहेजा तथा विशाल पोपली समेत सभा के कई सदस्य निर्माणाधीन कृष्णा भवन में मंदिर के गुम्बज के निर्माण की विधिवत शुरूआत अवसर पर मौजूद थे। श्री सनातन धर्म सभा के प्रधान और वरिष्ठ सदस्यों ने पूजा करके निर्माण की ईंट रखी।

इस अवसर पर श्री सनातन धर्म सभा के प्रधान सतीश गुलाटी ने बताया कि तरावड़ी नगरी के लोगो ने कृष्णा भवन के निर्माण में जो दरियादिली दिखाई है। उसी दरियादिली की बदौलत ही कृष्णा भवन का निर्माण शीघ्र संभव हो पाया है। उन्होने बताया कि गुम्बज का निर्माण कार्य भी जल्द ही नगरवासियों के सहयोग से पूरा हो जाएगा। कृष्णा भवन में मंदिर का आकार लगभग तैयार हो चुका है। जल्द ही मंदिर का भव्य निर्माण भी पूरा करवाया जाएगा। पहले भी नगर के लोगो ने उम्मीद से अधिक तथा दिल खोलकर श्री सनातन धर्म सभा द्वारा करवाए जा रहे निर्माण में सहयोग दिया है। उन्होने तरावड़ी को एतिहासिक और धार्मिक नगरी बताते हुए कहा कि अतीत में भी नगरवासियों ने सामाजिक कार्यों में कभी

कंजूसी नहीं दिखाई। तरावड़ी का इतिहास सन 1100 ईस्वी से जुडा है। इसके अलावा नौंवी पातशाही श्री गुरूतेग बहादुर जी के शीश का भी आगमन 1675 में इसी नगरी में हुआ था। इसलिए स्थानीय लोगो की सामाजिक कार्यो के प्रति अधिक रूचि रहती है। उन्होने कहा कि कृष्णा भवन का निर्माण पूरा हो जाने के बाद शहर के लोगो के लिए यह सौगात से कम नहीं होगी। यह भवन प्रत्येक समाज के लोगो के कार्यो में काम आएगा। उन्होने भवन निर्माण के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल, सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा, राज्यसभा सांसद के.डी सिंह तथा नीलोखेड़ी के विधायक भगवानदास कबीरपंथी का भी विशेष आभार प्रकट किया। उन्होने बताया कि कृष्णा भवन का निर्माण गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानन्द जी महाराज के सानिध्य में ही हो रहा है।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: ender 3 upgrades thingiverse

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *