Connect with us

Haryana

शहीद अनिल कुमार के परिजनों की संवेदनाओं में वह उनके साथ हैं, जो भी प्रसाशनिक कार्रवाही होगी वह पुरी की जाएगी : एसडीएम

सत्यखबर, गोहाना ( सुनील जिंदल    )  गोहाना के लाठ गांव के रहने वाले  लांस नायक अनिल की बरेली में 21 मार्च को कुछ लोगो ने गोली मार कर हत्या कर दी थी लांस नायक अनिल ने अपने  दोस्त की पत्‍‌नी से छेड़छाड़ का विरोध किया था गोली मारने के आरोपी ने खुद ही थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया था आज गांव […]

Published

on

सत्यखबर, गोहाना ( सुनील जिंदल    )

 गोहाना के लाठ गांव के रहने वाले  लांस नायक अनिल की बरेली में 21 मार्च को कुछ लोगो ने गोली मार कर हत्या कर दी थी लांस नायक अनिल ने अपने  दोस्त की पत्‍‌नी से छेड़छाड़ का विरोध किया था गोली मारने के आरोपी ने खुद ही थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया था आज गांव लाठ में सहीद हुए अनिल के तेरवी रस्म क्रिया पर गोहाना उपमंडल अधिकारी सुभीता ढाका व नायब तहसीलदार राजबीर सिंह दहिया पहुंचे। एसडीएम सुभीता ढ़ाका ने कहा कि शहीद अनिल कुमार के परिजनों की संवेदनाओं में वह उनके साथ हैं। जो भी प्रसाशनिक कार्रवाही होगी वह पुरी की जयेगी और जो भी सहायता बनेगी की जायेगी। अनिल कुमार जाट रजिमेंट सेना में लांस नायक के पद पर थे।अनिल कुमार अपने परिवार के साथ बरेली में रहता था। पडोस में कमाउ रजिमेंट का जवान भी रहता था। दोस्त की पत्नी के साथ कुछ असमाजिक तत्व छेडछाड कर रहे थे। अनिल कुमार ने छेडछाड का विरोध किया था। उसके बाद अनिल कुमार 11-20 मार्च तक की छुट्टी लेकर अपने गांव लाठ पहुंचा। छुट्टी पुरी करने के बाद 21 मार्च को वापिस ड्यिुटी पर पहुंचा। जहां पर ड्यिुटी से वापिस लौटते समय पिछेे से बदमाशों ने गोली मार दी और अनिल कुमार की मौत हो गई। शहीद अनिल कुमार का पार्थिव शरीर 23 मार्च को गांव लाठ पहुंचा था। अनिल कुमार के परिजनों को आर्थिक सहायता दिलाने के लिए कागजी कार्रवाई के लिए फौज की तरफ से हवलदार अशोक कुमार की जिम्मेदारी लगाई है। शहीद लांस नायक अनिल कुमार 21 वर्ष की उम्र में जाट रजिमेंट फौज में 21 जनवरी 2002 को सिपाही के पद पर भर्ती हुआ था और लांस नायक बन चुका था। 
  शहीद नांस नायक अनिल कुमार का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ हुआ है, लेकिन भाजपा का कोई भी नेता व मंत्री शहीद के अंतिम यात्रा या 13वीं रस्म क्रिया में शामिल होने नही पहुंचा। एक तरफ तो भाजपा सरकार शहीदों का सम्मान समारोह कर अपनी वाह-वाही लुटने का काम करते हैं। कुछ ही दिन पहले वोट पाने व लोकप्रियता के लिए शहीद परिवार सम्मान समारोह का आयोजन किया था।
2 Comments

2 Comments

  1. Pingback: 대밤

  2. Pingback: Filtrare

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *