Connect with us

Haryana

श्री विश्वकर्मा सम्पूर्ण समाज के शिल्पकारों के भाग्य विधाता- बलविन्द्र धीमान

Published

on

सत्यखबर, नरवाना (सन्दीप श्योरान):-

श्री विश्वकर्मा मंदिर एवं धर्मशाला प्रबंधक कमेटी के तत्वावधान में आयोजित विश्वकर्मा दिवस समारोह मेें कुलदीप काला धमतान ने मुख्यातिथि के तौर पर शिरकत की तथा जयदीप दुग्गल व समाजसेवी राममेहर जांगड़ा गुरथली विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कमेटी प्रधान बलविन्द्र धीमान ने की। बलविंद्र धीमान ने कहा कि भगवान श्री विश्वकर्मा सम्पूर्ण समाज के शिल्पकारों के भाग्य विधाता हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को भगवान श्री विश्वकर्मा के दिखाए मार्ग पर चलना चाहिए। उन्होंने द्वारिका नगरी, हस्तिनापुर नगर और रावण की सोने की लंका का ही निर्माण नहीं किया, बल्कि देवताओं के अस्त्र-शस्त्र भी विश्वकर्मा ने बनायें। मुख्य वक्ता भगवती प्रसाद बागड़ी ने कहा कि भारत को ऐसा गौरव प्राप्त है। जिसमें सभी महान पुरूषों की जयंतियां मनाकर उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प लिया जाता। समाजसेवी राममेहर जांगड़ा ने कहा कि जिस समाज के बच्चे उच्च शिक्षा ग्रहण करते हैं, वही समाज आगे बढ़ता है। उन्होंने कहा कि शिल्पी देव विश्वकर्मा समाज के सबसे बड़े शिक्षक रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति हाथ का हुनर रखता है, वह कभी दूसरों के आगे हाथ नहीं फैलाता। इस अवसर पर बलविन्द्र, सतपाल पांचाल, स. सुखजिंद्र, विजय धीमान, राजेंद्र, महेन्द्र, सुरेश पांचाल, मेवा धीमान, सतबीर धीमान, सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *