Connect with us

Palwal

सभी अधिकारी सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुचाएं : उपायुक्त नरेश नरवाल*

Published

on

सत्यखबर, *पलवल, 08 सितंबर
उपायुक्त नरेश नरवाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला प्रशासन की हिदायतों का गंभीरता से पालन करें। सभी अधिकारी अपने कार्यालय में रिकॉर्ड को समूचित ढंग से रखना सुनिश्चित करें। सभी अधिकारी मुख्यमंत्री घोषणाओं के तहत परियोजनाओं को समय पर पूर्ण करें तथा सीएम विंडो, सोशल मीडिया ग्रीवेंस ट्रेकिंग पर प्राप्त शिकायतों का निर्धारित अवधि में निपटारा सुनिश्चित करें।
उपायुक्त नरेश नरवाल स्थानीय जिला सचिवालय के सभागार में अधिकारियों की मासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए एजेंडे में शामिल बिंदुओं पर विभिन्न विभागों की योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने मुख्यमंत्री घोषणाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि संबंधित विभाग द्वारा विकास परियोजना पर की गई कार्यवाही को पोर्टल पर अपडेट करें तथा इन परियोजनाओं को समय पर पूरा करवाएं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिकायत निवारण पटल एवं सोशल मीडिया ग्रीवेंस ट्रैकिंग पोर्टल पर प्राप्त शिकातयों का यथाशीघ्र एवं निर्धारित अवधि में निपटारा किया जाए।
पुलिस अधीक्षक कार्यालय में बेहतर रिकॉर्ड प्रबंधन का सभी अधिकारी करें अनुसरण
उन्होंने पुलिस विभाग से संबंधित बिंदुओं की समीक्षा करते हुए पुलिस उपाधीक्षक को निर्देश दिए कि वे अनुसूचित जाति अत्याचार निवारण अधिनियम के मामलों की रिपोर्ट राष्टï्रीय मानव अधिकार आयोग भी भिजवाएं। उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक कार्यालय में रिकॉर्ड का बेहतर प्रबंधन किया गया है। जिला सचिवालय में स्थित सभी कार्यालय उसका अनुसरण करें तथा जिला सचिवालय को आदर्श सचिवालय बनाएं। उन्होंने जिला में अवैध खनन के संदर्भ में विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अवैध खनन में संलिप्त वाहनों के चालान करें व उन्हें जब्त करें। जिला में अवैध खनन की पूरी जानकारी प्रस्तुत की जाए। उन्होंने ऑवरलोडिंग वाहनों पर क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा करते हुए कहा कि बिना परमिट के सवारी बैठाने वाली बसों को इम्पाउंड किया जाए। सभी अधिकारी सरकारी भवनों का सही रखरखाव सुनिश्चित करें ताकि छतों व अन्य स्थलों पर वर्षा का जल जमा न हो और बिमारियां न पनपें। उन्होंने सिविल सर्जन से जिला में डेंगू व मलेरिया के मामलों की समीक्षा की तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए गए प्रबंधों पर संतुष्टिï व्यक्त की।
मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर बाजरा फसल का शत प्रतिशत करवाएं पंजीकरण
किसानों की कपास की फसल की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर हो
उन्होंने कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि फसलों के अवशेष जलाने वाले रैड जोन की सूची संबंधित उपमंडलाधीश को दी जाए। फसल अवशेष न जलाने बारे किसानों को जागरूक किया जाए तथा यह सुनिश्चित किया जाए कि जिला में कोई भी किसान फसल अवशेष न जलाए। जिला में मेरी फसल मेरा ब्यौरा के पोर्टल पर बाजरा की फसल का शत प्रतिशत पंजीकरण करवाया जाए। उन्होंने मार्किट कमेटी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे कपास की फसल की बिक्री पर नजर रखें और यह सुनिश्चित करें कि किसानों की कपास की फसल को सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ही खरीदा जाए तथा नमी की भी जांच की जाए। उन्होंने कहा कि कपास खरीद के बारे में प्रतिदिन रिपोर्ट भेजी जाए।
उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे रबी की फसल की बिजाई से पूर्व यह सुनिश्चित करें कि कहीं भी किसानों की भूमि में जलभराव न रहे। वर्षा से हुए जलभराव की तुरंत निकासी करवाई जाए। सभी खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी गांव की आबादी में जमा हुए पानी की निकासी करवाएं। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे पौधारोपण के लक्ष्य को पूरा करें तथा इन पौधों की देखभाल भी करें। उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जिलावासियों को निर्धारित शैड्यूल अनुसार निर्बाध रूप से बिजली आपूर्ति करें।
कोविड-19 के सामुदायिक संक्रमण को रोकने हेतु सरकार द्वारा जारी हिदायतों का करें पालन
उन्होंने कहा कि जिला में कोविड-19 के सामुदायिक संक्रमण को रोकने हेतु सरकार द्वारा जारी हिदायतों का पालन करें। उन्होंने कहा कि योगा एवं आयुर्वेद की मदद से हम रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करके कोरोना वायरस के संक्रमण से बच सकते हैं। सरकार द्वारा घोषित अनलॉक-4 लागू किया गया है। सभी मास्क का प्रयोग करें, सामाजिक दूरी के नियम का पालन करें, बार-बार साबुन अथवा हैंड सैनेटाइजर से हाथ साफ करें तथा सामाजिक समारोह से यथासंभव दूरी बनाकर रखें। सरकार द्वारा धार्मिक स्थलों, उद्योगों, ढाबा आदि के संचालन हेतु मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) निर्धारित की गई है, जिसका पूर्ण रूप से पालन सुनिश्चित किया जाए। सभी इन्सीडेंट कमांडर सरकार की हिदायतों का सख्ती से पालन करवाएं। ग्रामीण क्षेत्रों में खंड विकास एवं पंचायत अधिकारियों द्वारा सैनेटाइजेशन करवाया गया है। जिला में कोविड-19 के 110 सक्रिय संक्रमित व्यक्ति है तथा रिकवरी दर में पलवल जिला प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। जिला में गत 15 दिनों में कोविड-19 की रिकवरी दर लगभग 92 प्रतिशत दर्ज की गई है। जिला में कोविड-19 के टेस्ट किए जा रहे हैं। कोविड संक्रमित व्यक्ति मिलने पर संबंधित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाता है तथा इन क्षेत्रों में सरकार की हिदायतानुसार सैनेटाइजेशन के साथ-साथ अन्य हिदायतों को भी लागू किया जाता है।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त वत्सल वशिष्ठï, पलवल के एसडीएम कंवर सिंह, होडल के एसडीएम संदीप अग्रवाल, हथीन के एसडीएम वकील अहमद, नगराधीश दिनेश, जिला परिषद के सीईओ अमित कुमार, जिला राजस्व अधिकारी नरेश जोवल, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधीक्षक अभियंता एस.एस. सांगवान, कृषि उपनिदेशक डा. महावीर सिंह, सिविल सर्जन डा. ब्रह्मïदीप, जिला सैनिक एवं अद्र्धसैनिक कल्याण विभाग के सचिव के.के. यादव, सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता एस.पी. गर्ग सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
https://www.youtube.com/watch?v=4THkCHzTQxE
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *