Connect with us

Haryana

समाज को कश्यप ऋषि जैसे संतो के विचारों को अपनाने की जरूरत: नायब सैनी

सफीदों :महाबीर मित्तल नगर की कश्यप धर्मशाला में वीरवार को महर्षि कश्यप जयंती बड़ी हर्षोउल्लास के साथ मनाई गई। इस अवसर पर आयोजित समारोह में प्रदेश के श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सैनी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। वहीं हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के सदस्य एडवोकेट विजयपाल सिंह, जिला भाजपा अध्यक्ष अमरपाल राणा, पूर्व न्यायाधीश […]

Published

on

सफीदों :महाबीर मित्तल
नगर की कश्यप धर्मशाला में वीरवार को महर्षि कश्यप जयंती बड़ी हर्षोउल्लास के साथ मनाई गई। इस अवसर पर आयोजित समारोह में प्रदेश के श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सैनी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। वहीं हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के सदस्य एडवोकेट विजयपाल सिंह, जिला भाजपा अध्यक्ष अमरपाल राणा, पूर्व न्यायाधीश श्यामलाल जांगड़ा व भाजपा के वरिष्ठ नेता रघुनाथ कश्यप ने बतौर विशिष्टातिथि शिरकत की। इस अवसर पर कश्यप समाज की ओर से अतिथियों का पगड़ी भेंट करके सम्मानित किया गया। अपने संबोधन में मुख्यातिथि नायब सैनी ने कहा कि आज के समाज और माहौल को सुधारने और आगे बढऩे के लिए महर्षि कश्यप द्वारा दी गई शिक्षाओं का अध्ययन करना चाहिए। प्रदेश की मनोहर लाल सरकार गरीब और पंक्ति में अंतिम छोर पर खड़े आदमी की सहायता के लिए सदैव ततप्पर है। इसी कारण से इसे गरीब और आम आदमी की सरकार का नाम दिया जाता है।
उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संकल्प लिया था कि जो भी जनहितकारी योजनाएं देश मे बनाई जाएंगी वे सभी देश के गरीब व्यक्ति के घर से होकर गुजरेंगी। जिसका सबसे ज्वलंत उदाहरण है प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना है, जिसके तहत गरीब के घर तक गैस पहुंचाने का कार्य युद्धस्तर पर किया जा रहा है। इसके अलावा गरीब व आम परिवारों को घर बैठे रोजगार मुहैया करवाए जा रहे है। इस मौके पर कश्यप समाज द्वारा दिए गए मांगपत्र पर गौर करते हुए श्रम मंत्री नायब सैनी ने 5 लाख की धनराशि कश्यप धर्मशाला को देने की घोषणा की और शहर में चौंक के निर्माण की मांग पर कहा कि समाज जगह निश्चित कर ले तो महर्षि कश्यप के नाम पर सफीदों में चौंक का निर्माण कर दिया जाएगा। इस अवसर पर कर्मचारी चयन आयोग के सदस्य एडवोकेट विजयपाल ने पिछली सरकारों से भाजपा सरकार की तुलना करते हुए कहा कि पहले नौकरी खास लोगों को मिलती थी जबकि आज के समय मे नौकरी आम आदमी को मिलती है। उन्होंने नौकरियों में साक्षात्कार की प्रथा को खत्म करने पर कहा कि यह सरकार का एक ऐतिहासिक निर्णय है जिसके कारण सरकारी नौकरियों में पारदर्शिता साफ झलकती है।
1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: beretta cx4 storm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *