Connect with us

Chandigarh

सरकार ने फिर मानी ‘सत्य खबर’ की सलाह, अब नहरी भूमि में भी मिलेंगे ट्यूब्वैल कनेक्शन, पर 1 मांग अभी बाकी

Published

on

सत्य खबर, चंडीगढ़।

हरियाणा के बिजली मंत्री चौ. रणजीत सिंह ने कहा कि किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए हमारी सरकार एक मानक तय करने का विचार कर रही है। जिसके तहत भूमि में पानी एक निश्चित स्तर तक होने पर ही कनेक्शन दिया जाएगा। मंत्री सिंह ने कहा कि किसानों को 6 महीने के भीतर सभी कनेक्शन दे दिए जाएंगे। नए ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए कमांड व नॉन कमांड का कोई विषय नहीं होगा और पैडी, नॉन पैडी का भी कोई विषय नहीं रहा है। बिजली मंत्री ने बताया कि हमने पंचकूला और गुरुग्राम दो शहरों को मॉडल के तौर बिना किसी कट के बिजली देने और इन्वेटर मुक्त शहर बनाने का लक्ष्य रखा है। हमारा प्रयास रहेगा कि खराब ट्रांसफार्मर, बिजली की तारें, पेड़ आदि समस्याओ को ठीक रखा जाए। उन्होंने बताया कि जून-जुलाई के महीने में तेज आंधी और बारिश के कारण खंबे ज्यादा टूटते हैं इसलिए अब सभी खंबों पर मार्किंग की जा रही हैं ताकि लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो। इन दो शहरों में ये प्रयोग सफल होने पर इसे पूरे हरियाणा में लागू किया जाएगा।

ये भी देखें…

मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि हमारा लक्ष्य पूरे हरियाणा को 24 घंटे बिजली देने का है। इस दिशा में आगे बढ़ते हुए हम करीब 5300 गांवों को 24 घंटे बिजली दे रहे हैं। हरियाणा औद्योगिक क्षेत्र में बिजली उपलब्ध करवाने में देश के अग्रणी राज्यों में से एक है और हमारी कोशिश है कि जल्द ही हरियाणा के सभी किसानों को उनके ट्यूबवेल के कनेक्शन दे दिए जाएं। उन्होंने कहा कि किसानों द्वारा करीब 50 हजार ट्यूबवेल के कनेंक्शन के लिए आवेदन किए गए थे। जिनमें से हमने करीब 35 हजार कनेंक्शन दे दिए हैं और बाकी भी जल्द दिए जाएंगे। वहीं नए ट्यूवेल कनेक्शन के लिए कमांड नॉन कमांड का कोई विषय नहीं होगा व पैडी .नॉन पैडी का भी कोई विषय नहीं रहा है। केवल 20, 25 या 30 मीटर से नीचे हम ट्यूबैल अलाउ नहीं करेंगे क्योंकि इससे भूमी के अंदर पानी खत्म होने का खतरा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *