Connect with us

Haryana

सांसद राजकुमार सैनी के निशाने पर मनोहर और केंद्र सरकार

सत्य ख़बर, कैथल (विपिन शर्मा):  कुरुक्षेत्र लोकसभा सांसद एवं लोकतंत्र सुरक्षा मंत्र के अध्यक्ष सांसद राजकुमार सैनी भले ही बीजेपी की टिकट पर सांसद हों लेकिन बीजेपी को कोसने का काम लगातार वो कर रहे हैं। ऐसा कोई मौका नहीं जाता जब राजकुमार सैनी बीजेपी पर जुबानी हमला न करें। एक बार फिर राजकुमार सैनी […]

Published

on

सत्य ख़बर, कैथल (विपिन शर्मा):  कुरुक्षेत्र लोकसभा सांसद एवं लोकतंत्र सुरक्षा मंत्र के अध्यक्ष सांसद राजकुमार सैनी भले ही बीजेपी की टिकट पर सांसद हों लेकिन बीजेपी को कोसने का काम लगातार वो कर रहे हैं। ऐसा कोई मौका नहीं जाता जब राजकुमार सैनी बीजेपी पर जुबानी हमला न करें। एक बार फिर राजकुमार सैनी ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाया है।

कैथल पहुंचे राजकुमार सैनी ने कहा कि बीजेपी के 4 साल के शाषनकाल में नेशनल हाइवे पर तो काम हुए हैं लेकिन स्टेट की सड़कों की हालत खस्ता है। सरकार जितना जोर प्रचार-प्रसार पर लगा रही है अगर उतने जोर से चार साल विकास कार्य किए होते तो प्रचार प्रसार पर उतना जोर नहीं लगाना पड़ता। सांसद सैनी ने नवम्बर  में होने वाली रैली को लेकर भी कार्यकर्ताओं से चर्चा की।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से पिछले चार साल में तीन तीन बार सेना बुलानी पड़ी और मुठ्ठी भर लोगों ने 50 से 60 प्रतिशत नौकरियों पर कब्जा किया है यह बात समझने की है। सांसद ने कहा कि चुनावी दौर में कर्मचारियों का आंदोलन होना स्वाभविक है। पहले बीजेपी के लोग कर्मचारियों का समर्थन करते थे अब कांग्रेस के लोग कर्मचारियों का समर्थन करते हैं।

कर्मचारियों को समझना चाहिए कि यह सब वोटों के लिए हो रहा है। एक सवाल के जवाब में सैनी ने कहा कि एक कर्मचारी व अधिकारी को दो लाख वेतन देने की बजाय वो रोजगार 10 लोगों में बांटना चाहिए। एक तो कर्मचारियों की कमी पूरी होगी और अधिक से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा।

इनेलो में चल रही गुटबाजी पर बोलते हुए सैनी कहा कि पहले ओमप्रकाश चौटाला ने अपने पिता व भाइयों को एक साइड में किया था। उन्होंने परिवार के लोगों के साथ ऐसा किया था तो अब उनके साथ भी ऐसा ही होगा।

राफेल घोटले पर बोलते हुए सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के लोग अपने घोटले छुपाने व उनका हिसाब बराकर करने के लिए भाजपा पर इस तरह के आरोप लगा रहे हैं। राम मंदिर चुनावी मुद्दा है समय के साथ-साथ तख्तियां बदली जाती हैं।

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: homes with pool

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *